Tuesday, July 25th, 2017
Flash

ट्रेन में खोया डायमंड पेंडेंट, जानिए रेल मंत्री ने क्या किया?

suresh-prabhu

रेल मंत्री सुरेश प्रभु अपने मदद करने के अंदाज़ को लेकर हमेशा से ही सुर्खियों में रहते है। पहले भी उन्होंने रेल यात्रियों को आई परेशानी का तुरंत ही समाधान निकाला था। इस बार भी सुरेश प्रभु ने कुछ ऐसा ही किया है। सुरेश प्रभु इस बार इस रेल यात्री के लिए प्रभु बनकर सामने आए है।

आजकल लोग ट्विटर का इस्तेमाल भले ही राहुल गांधी के बयान में गलतियां और करीना के बेटे के नाम पर अपनी राय देने के लिए करते हो लेकिन रेल मंत्री ट्विटर का प्रयोग रेल्वे यात्रियों की समस्या को तुरंत निपटाने के लिए करते है। इस बार सुरेश प्रभु ने जो कर दिखाया है वो शायद और कोई नहीं कर सकता था।

दरअसल हुआ यूं कि अतुल ओझा नामक एक व्यक्ति की पत्नी डबल डेकर ट्रेन में यात्रा कर रही थी। वो अहमदाबाद जाने के लिए सफर कर रही थी। सफर के दौरान ही अचानक उन्हें मालूम हुआ कि उनका हीरे का पेंडेंट खो गया है। जब उन्हें ये मालूम हुआ तो पहले तो उन्होंने पूरे कोच में उसे ढूंढने की कोशिश की लेकिन खोज नहीं पाईं।

बाद में उन्हें ख्याल आया कि क्यों न ये बात पति अतुल ओझा को बताई जाए। उनके दिमाग में आए इसी आइडिया ने कमाल कर दिखाया। उन्होंने तुरंत अपने पति को इस पूरे वाकये के बारे में बताया। महिला के पति अतुल को जैसे ही पता लगा उन्होंने समय न गंवाते हुए तुरंत एक ट्वीट रेल मंत्री को कर दिया और ट्वीट में पूरी घटना को लिख दिया।

tweet

यहां पर अतुल ने तो ट्विटर का पूरा सही प्रयोग किया लेकिन रेल मंत्रालय ने भी अपनी ओर से कोई कसर नहीं छोड़ी। रेल मंत्रालय ने पूरे 9 मिनट में अतुल ओझा के ट्वीट का जवाब देते हुए उनसे पूछा कि यात्री का पीएनआर नंबर और फोन नंबर क्या है। इसके बाद आठ मिनट में टीम उस ट्रेन में पहुंच गई।

टीम उस कोच में पहुंचकर पेंडेंट की खोज में जुट गई। आधे घंटे की मेहनत के बाद अतुल की पत्नी का हीरे का पेंडेट टीम ने ढूंढकर उन्हें वापस दे दिया। श्रीमान अतुल की पत्नी हो सकता है बहुत भाग्यशाली थी इसलिए उनका पेंडेट मिल गया लेकिन इस बात की गुहार खुद रेल्वे विभाग भी लगाता है कि रेल में कीमती सामान लेकर सफर न करें।

Follow Us

Youthens Poll

क्या वोट के लिए युवाओ को मुफ्त की रेवड़िया बांटना उनके आत्मसम्मान को चोट पहुचाना है उचित्त है

Young Blogger

Dont miss

Loading…

Related Article

No Related

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Subscribe

Categories