Monday, August 21st, 2017
Flash

गुरूग्राम को दिया जाएगा ई-शासन पुरस्कार




Social

gurugram-2

भारत की बेस्ट इंडस्ट्रीयल और फाइनेंशियल सिटी गुरूग्राम को इस बार ई-शासन पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। गुरुग्राम जिला प्रशासन को आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में 9 व 10 जनवरी 2017 को आयोजित ई-शासन पर दो दिवसीय 20वें राष्ट्रीय सम्मेलन में जी-ट्रायंगुलेशन परियोजना के लिए राष्ट्रीय ई-शासन पुरस्कार दिया जाएगा।

इस परियोजना को ई-शासन 2016-17 पर राष्ट्रीय पुरस्कारों के लिए ई-शासन में जीआइएस प्रौद्योगिकी के श्रेणी-6 अभिनव प्रयोग के तहत स्वर्ण पदक से नवाजा गया है। उपायुक्त टीएल सत्यप्रकाश ने बताया देश में किसी भी अन्य राज्य ने प्रयुक्त रिकार्ड प्रबंधन में इतने प्रयोग नहीं किए हैं, जितने हरियाणा ने किए हैं।

इस परियोजना के क्रियान्वयन के लिए मानेसर तहसील क्षेत्र को एक पायलट के रूप में लिया गया था। इसके अंतर्गत 37 गांवों में से 14 गांवों का राजस्व रिकार्ड पूरी तरह से परिष्कृत किया गया। इस परियोजना का उद्देश्य जिलाभर में भूमि जोत का पूर्णतः स्थानिक सन्दर्भ उपलब्ध करवाना तथा मानेसर में भूमि जोत विवरण को वैध बनाना है। उन्होंने बताया कि इससे 1957 से 2016 के दौरान भू-अभिलेख में हुई गलतियां कम होने की उम्मीद है।

आपको बता दें कि गुरूग्राम को पहले गुड़गांव कहा जाता था। कुछ महीनों पहले ही इसका नाम बदल कर गुरूग्राम किया गया है। गुरूग्राम हरियाण में स्थित है और दिल्ली से 32 किमी दूर है। गुरूग्राम की कुल आबादी 8,76,824 है। गुरूग्राम देश का तीसरा सबसे ज़्यादा पैसा कमाने वाला शहर है।

Sponsored



Follow Us

Youthens Poll

‘‘आज़ादी के 70 साल’’ इस देश का असली मालिक कौन?

Young Blogger

Dont miss

Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Subscribe

Categories