page level


Wednesday, October 17th, 2018 06:51 PM
Flash

Mukesh Ambani 7वीं बार बने सबसे अमीर व्यक्ति, इन आदतों ने दिलाया ये मुकाम




Mukesh Ambani 7वीं बार बने सबसे अमीर व्यक्ति, इन आदतों ने दिलाया ये मुकामBusiness



रिलायंस इंडस्ट्री के चेयरमैन मुकेश अंबानी लगातार सांतवी बार देश के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं। बार्कलेज हयन इंडिया की रिच लिस्ट में अंबानी का नाम टॉप पर है। जानकर हैरत होगी कि अंबानी हर दिन 300 करोड़ रूपए कमाते हैं। चीन की रिफर्म फर्म हरून की रिपोर्ट के अनुसार अंबानी की कमाई में पिछले एक साल में हर दिन 300 करोड़ की बढ़ोतरी हुई है। अंबानी 3 लाख 71 हजार करोड़ की संपत्ति के साथ लगातार सांतवी बार देश के सबसे अरबपति व्यक्ति बन गए हैं।

ये है अमीरों की लिस्‍ट
उनके बाद 1,59,000 करोड़ की नेट वर्थ के साथ हिंदूजा परिवार है. तीसरे नंबर पर दुनिया की सबसे बड़ी स्टील कंपनी के प्रोमोटर लक्ष्मी निवास मित्तल परिवार है, चौथे नंबर पर हैं विप्रो के मालिक अजीम प्रेमजी. सन फार्मा के प्रोमोटर दिलीप संघवी, कोटक महिंद्रा बैंक के चेयरमैन उदय कोटक, सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के चेयरमैन सायरस पूनावाला और अदानी इंटरप्राइजेज के चेयरमैन गौतम अदानी भी लिस्ट में शामिल हैं। इस बार पालोनजी मिस्त्री ब्रदर्स के सायरस और शापूरजी ने भी टॉप टेन में जगह बनाई है। पतंजलि के आचार्य बालकृष्ण को लिस्ट में 11वां स्थान मिला है।

सबसे युवा और सबसे ज्‍यादा उम्र के ये हैं अमीर
ओयो रूम्स के 24 वर्षीय ऋषभ अग्रवाल सूची में शामिल सबसे युवा अमीर हैं जबकि एमडीएच मसाला के 95 वर्षीय धरमपाल गुलाटी सबसे बुजुर्ग। सूची में शामिल महिलाओं की संख्या भी 157 प्रतिशत बढ़कर 136 पर पहुंच गई है।

इन आदतों से अंबानी बने अरबपति-

# पैसा एक बाय प्रोडक्ट है। पैसे का पीछा करने से कोई सफल नहीं होता, बेहतर है पैसे को हमारा पीछा करने दो।

# मुकेश अंबानी की एक आदत ने उन्हें अमीर बनने में ज्यादा मदद की। वो ये कि उन्होंने सपना देखा और उसे पूरा करने के लिए अपना जी-जान लगा दिया।

# मुकेश अंबानी की एक आदत रही है कि वे सुनते सबकी हैं, पर निर्भर किसी पर नहीं रहते। ये ही उनकी कामयाबी का सक्सेस मंत्र है। उनके अनुसार काम के मामले में हम सबसे ज्यादा खुद से ही सीखते हैं।

# अंबानी जुआ खेलने के बजाए रिस्क उठाना ज्यादा बेहतर मानते हैं। उनके अनुसार लाइफ में रिस्क हमें बहुत कुछ सिखाती और मजबूत बनाती है।

# अंबानी हमेशा भूखे रहो, अधीर रहो के मंत्र पर यकीन करते हैं। उनके हिसाब से सफलता उन लोगों को बढ़ाती है जो दौड़ के बीच में आराम करते हैं। लेकिन प्रतिद्वंदता के इस युग में रूकना सही नहीं है। बाजार किसी के लिए इंतजार नहीं करता, इसलिए दौड़ते रहो।

# मुकेश अंबानी आज जिस मुकाम पर हैं, वहां भी वे आज भी हमेशा सीखते रहो का फंडा अपनाते हैं। उनके अनुसार सीखने की तो कोई उम्र नहीं होती, इसलिए बस सीखते रहो, सीखते रहो।

यह भी पढ़ें

जानिए कितनी सैलरी लेते हैं मुकेश अंबानी, नौ साल से नहीं बढ़ा वेतन

जल्द इस लड़की से मुकेश अंबानी के छोटे बेटे अनंत कर सकते है सगाई

मिलिए अंबानी खानदान के तीसरे “युवराज” से, इनकी एक महीने की सैलरी सुनकर दंग रह जाएंगे आप

Sponsored






You may also like

No Related News