page level


Wednesday, December 13th, 2017 11:43 PM
Flash




नोटबंदी का सर्मथन करने वाले अर्थशास्त्री रिचर्ड थेरल को मिला नोबेल पुरस्कार




नोटबंदी का सर्मथन करने वाले अर्थशास्त्री रिचर्ड थेरल को मिला नोबेल पुरस्कारSocial

Sponsored




इस साल का अल्फ्रेड नोबेल 2017 का अर्थशास्त्र का पुरस्कार अमेरिकी प्रोफेसर रिचर्ड थेरल को मिला है। जी हां, रिसर्च वही शख्स हैं, जिसने मोदी के नोटबंदी के फैसला का खुलकर समर्थन किया था। थेलर ने इसे करप्शन के खिलाफ लड़ाई का पहला कदम बताया था। 72 साल के थेलर को व्यवहारिक अर्थशास्त्र में योगदान के लिए मिला है। इसके अलावा साहित्य, शांति व अन्य क्षेत्र में भी कई लोगों को पुरस्कार मिला है। जानिए इन नोबेल पुरस्कार से सम्मानित शख्सियतों के बारे में।

डायनामाइट के आविष्कारक थे अल्फ्रेड नोबेल-

स्वीडन के साइंटिस्ट अल्फ्रेड नोबेल की याद में हर साल शांति, साहित्य, भौतिकी, रसायन, मेडिकल साइंस और इकोनॉमिक्स के क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार दिया जाता है। यह दुनिया का सबसे बड़ा पुरस्कार माना जाता है। पुरस्कार के रूप में हर साल जीतने वाले को 14 लाख डालॅर प्रदान किए जाते हैं। बता दें कि अल्फ्रेड नोबेल ने अपनी जिन्दगी में 355 आविष्कार किए थे, जिनमें 1867 में किया गया डायनामाइट का आविष्कार सबसे मशहूर रहा था।

जेनेवा की इंटरनेशनल कैंपेन टू एबोलिया न्यूक्लियर वेपन को इस साल का नोबेल शंति पुरस्कार मिला है। ICAN वह गैर सरकारी संस्था है, जो दुनियाभर में परमाणु हथियारों पर रोक लगाने की कोशिश कर रही है।

कैमिकल साइंस के क्षेत्र में क्रायो इलेक्ट्रॉन माइक्रोस्कोपी के इंवेंशन के लिए जैक्यूज डबोचेट, जोएचिम फ्रैंक और रिचर्ड हैंडसन को नोबेल पुरस्कार मिला है।

भौतिकी का नोबेल पुरस्कार इस साल अमेरिका के तीन साइंटिस्ट को मिला है। इन साइंटिस्ट को लीगो डिटेक्टर के आविष्कार के लिए पुरस्कार दिया गया है। वहीं अमेरिका के तीन अन्य वैज्ञानिकों को फिजियोलॉजी और मेडिकल के क्षेत्र में पुरस्कार दिया गया है। वैज्ञानिकों को ये पुरस्कार शरीर के इंटरनली काम करने के तरीके के बारे में ख्ुालासा करने के लिए दिया गया है। उनके इस इंवेंशन से डॉक्टरों को लोगों के सोने के तरीके, खाने के तरीके और बॉडी टेम्प्रेचर को कंट्रोल करने में काफी मदद मिलेगी। इन वैज्ञानिकों के नाम हैं जेफ्री.सी.हॉल, माइकल रोशबाश, माइकल वी यंग।

जापान के ब्रिटिश राइटर काजुओ इशिगुरो को कौन नहीं जानता। साहित्य के क्षेत्र में 2017 का नोबेल पुरस्कार इशिगुरो को मिला है। इशिगुरो इंग्लिश की दुनिया में करंट फिक्शन के टॉप राइटर्स में से एक हैं। इससे पहले भी उन्हें मैन बुकर अवॉर्ड से नवाजा जा चुका है।

Sponsored






Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें