page level


Friday, May 25th, 2018 10:09 PM
Flash

बैंक में 1 से ज्यादा अकाउंट है तो जान लें फायदे और नुकसान की बात




बैंक में 1 से ज्यादा अकाउंट है तो जान लें फायदे और नुकसान की बातBusiness



आजकल हर इंसान कम से कम 2 बैंक अकाउंट रखता है। बिजनेस पर्पस के साथ सेविंग अकाउंट अलग से रखते हैं, तो कुछ अपना सैलरी अकाउंट के कारण सेविंग अकाउंट अलग रखते है। परंतु कुछ लेग बिना किसी वजह के भी दो अकाउंट रखते तो है लेकिन उसे मेंटेन नहीं कर पाते है। इसके कई सारे नुकसान के साथ में कई सारे फायदे भी होते है। जिन्हें खाताधारक शायद नहीं भी जानते हो। यहां हम आपको बताने जा रहे है उससे जुड़े फायदे और नुकसान के बारे में –

बड़ा पैसा फंसने की संभावना

2 से ज्यादा अकाउंट होने पर खाताधारक के अगर ज्यादा अमाउंट होता है तो वह फंसने की संभावना ज्यादा होती है। और ऐसे में उस राशि पर आपको जो रिटर्न मिलना होता है उसका 5 से 6 प्रतिशत तक ही रिटर्न मिलता है।

अकाउंट मेंटेन नहीं करने पर नुकसान

अकाउंट में हम पैसे अपनी सेविंग के लिए रखते है। लेकिन उसमें मिनिमम तय बैलेंस नहीं होने पर उल्टा हमको ही उस अकाउंट के लिए पैनल्टी चार्ज देना होता है। कई बैंक में मिनिमम बैलेंस 10 हजार रूपए हैं। कई बार बैंक खाते होने से प्रत्येक खाते पर आपको सालाना मेंटेनेंस फीस भी देना होती है। कभी डेबिट और क्रेडिट कार्ड व अन्य बैंकिंग सुविधाओं के लिए ग्राहकों से अतिरिक्त शुल्क वसूलते हैं। यहां भी आपको काफी नुकसान उठाना पड़ता है, जो आपको पता नहीं चलता है। एक नुकसान यह भी होता है कि सेविंग के चक्कर में हम बहुत सारे अकाउंट खोल लेते है लेकिन इनके पासवर्ड भूलने पर इनको रिकवर करना थोड़ा मुश्किल होता है।

ई – रिटर्न फाइल करने में दिक्कत

जब ई – रिटर्न फाइल करने का समय आता है तब बैंकों में अधिक अकाउंट होने से टैक्स भरते समय कई दिक्क्तों का समाना करना पड़ जाता है। ऐसे में पेपर वर्क भी ज्यादा रहता है। साथ ही इनकम टैक्स फाइल करते समय सभी बैंक खातों से जुड़ी जानकारी रखना और उनके स्टेटमेंट का रिकॉर्ड जुटाना काफी मुश्किल काम हो जाता है।
बचत योजनाओं में पैसा लगाएं

1 से ज्यादा अकाउंट होने पर आपने पैसा सिर्फ रखने के बचाए आप उसे पैसों को दूसरी बचत योजनाओं जैसे पोस्ट ऑफिस, शेयर बाजार, सरकारी बोंड, एफडी या म्यूचुअल में लगा सकते हैं। इससे सालाना आपका रिटर्न कई गुना बढ़ सकता है। साथ ही अगर अपना पैसा म्युचुअल फंड या शेयर मार्केट में लगाते है तो आप उनसे कई गुना अधिक रिटर्न पा कर सकते हैं। साथ ही दूसरी बचत योजनाओं से भी बेहतर इनकम हो सकती है।

कई सारे अकाउंट के फायदे

-अभी तक तो यह जाना था कि मल्टीपल बैंक अकाउंट होने से कई सारे नुकसान होते है लेकिन इसके कई सारे फायदे भी होते है। मल्टीपल अकाउंट होने से आप कई बैंक की फ्री ट्रांजेक्शन की सुविधा ले सकते है। अगर दे बैंक में खाते हैं तो एटीएम से 10 बार फ्री ट्रांजेक्शन कर सकते है। किसी एक बैंक का नेटवर्क फेल हो तो आप दूसरे बैंक का एटीएम या ऑनलाइन बैंंकंग का इस्तेमाल कर सकते है।

-अगर कोई बैंक कम ब्याज ऑफर दे रहा है तो आप पैसे को दूसरे बैंक में ट्रांसफर कर अधिक ब्याज का लाभ उठा सकते है।

– कई सारे अकाउंट होने पर चेकबुक की संख्या बढ़ जाती है। इसके साथ ही बैंक अपने अकाउंट होल्डर को क्रेडिट कार्ड ऑफर करते हैं। इससे आपके पास क्रेडिट कार्ड सिलेक्ट करने के भी ऑप्शन रहते है।

– कई बार अकाउंट होने पर आपको शानदार स्कीम का लाभ उठा सकते हैं। जिनमें आकर्षक सालाना प्रीमियम पर पर्सनल एक्सीडेंट कवरभी शामिल होता है।

यह भी पढ़ें

देश के 8500 रेलवे स्टेशनों पर पहुंचते ही मिलेगी यह मुफ्त सुविधा

नहीं है ट्रंप को कोई बीमारी, अब सार्वजनिक होगी मेडिकल रिपोर्ट

SC ने वापस लिया फैसला, अब सिनेमाघरों में राष्ट्रगान बजाना जरूरी नहीं

अब कोई नहीं रहेगा VVIP, सबके लिए लागू हुआ ये नियम

 

Sponsored