Saturday, November 18th, 2017 07:05 PM
Flash




सीडी कांड : गुजरात की राजनीति में भूचाल, सामने आई हार्दिक पटेल की दूसरी ‘डर्टी सीडी’




सीडी कांड : गुजरात की राजनीति में भूचाल, सामने आई हार्दिक पटेल की दूसरी ‘डर्टी सीडी’Viral

Sponsored




गुजरात में चुनावी गर्मी दिन पे दिन बढ़ती जा रही हैं। गुजरात के नौजवान नेता हार्दिक पटेल की सीडी वायरल हुई है जिसमें वह एक कमरे में एक महिला के साथ नज़र आ रहे है। इसके वायरल होने के बाद हार्दिक पटेल ने कहा कि यह भाजपा की सबसे गंदी राजनीति है। बीजेपी बदनाम करने की कोशिश कर रही है।

बीजेपी बदनाम करने की कोशिश में

इंटरनेट पर उनका यह वीडियो वायरल होते ही हार्दिक पटेल ने सीडी के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया है। हार्दिक ने कहा है कि बदनाम करने के लिए बीजेपी ने ये सीडी की गंदी राजनीति की है। उन्होंने कहा, ये जो वीडियो मैंने देखा है, इन लोगों ने यू ट्यूब वगैरह पर वायरल किया है। जहां तक मैंने पहले भी कहा था इन लोगों का प्योर मास्टर प्लान गंदी राजनीति बैड राजनीति की ओर चलता जा रहा है।

हार्दिक ने आगे कहा संयज जोशी की सेक्स सीडी बनाना आप भी समझ सकते हैं कि जिस टाइम संजय जोशी कद्दावर नेता बन रहे थे। तभी ये सीडी बनाने का प्रयास इन लोगों ने किया था। 2017 में भी कुछ अच्छा माहौल हो रहा है तो इन लोगों ने सीडी बनाने का प्रयास किया है।

ये सब करने के बाद भी लड़ाई जारी रहेगी

हार्दिक ने कहा है, ये सब चलता रहेगा लड़ाई जारी रहेगी। मजबूती से जारी रहेगी। जिसको जो करना है कर ले जिसको जो उखाड़ना है उखाड़ ले छाती ठोक कर बीजेपी के सामने लड़ेंगे।

आपको बता दें कि हार्दिक पटेल का ये सीडी कांड तब आया है। जब हार्दिक पटेल अपनी टीम के साथ ये फैसला करने के लिए बैठने वाले हैं कि कांग्रेस के साथ चुनाव में क्या संबंध रखने हैं।

कौन हैं हार्दिक पटेल

हार्दिक पटेल गुजरात में पटीदार आंदोलन के बड़े युवा नेता हैं। पटीदार समुदाय ओबीसी श्रेणी के तहत सरकारी नौकरी और शिक्षा में आरक्षण चाहते हैं। हार्दिक पटेल का जन्म 20 जुलाई 1993 में चन्दन नगरी गुजरात में हुआ था। हार्दिक साल 2011 में सरदार पटेल समूह से जुड़े थे। इसके बाद हार्दिक ने साल 2015 में पाटीदार अनामत आंदोलन समिति का निर्माण किया था। जिसका लक्ष्य अन्य पिछड़ा वर्ग में शामिल होना था।

बीजेपी से क्यों नाराज हैं पाटीदार

गुजरात में पटेलों की आबादी करीब 15 प्रतिशत है राज्य की करीब 80 सीटों पर पटेल समुदाय का प्रभाव है। पटेल बीजेपी के मुख्य वोट बैंक माने जाते रहे हैं। बीजेपी के 182 में से 44 विधायक पटेल जाति से आते है। लेकिन वर्तमान समय में पाटीदार बीजेपी से नाराज चल रहे हैं। गुजरात में कड़वाए लेउवा और आंजना तीन तरह के पटेल हैं। आंजना पटेल ओबीसी में आते हैं। जबकि कड़वा और लेउवा पटेल ओबीसी आरक्षण की मांग कर रहे हैं। इसके बाद से यह लड़ाई जारी है।

आपको बता दें कि इससे पहले भी हार्दिक पटेल के नाम से एक एमएमएस वायरल हुआ था जिसमें वे एक विदेशी लड़की के साथ अश्लील हरकते करते दिख रहे थे। हालांकि बाद में इसे फेक करार दिया गया था। अब ये देखना दिलचस्प होगा कि ये वीडियो असली है या फेक है और क्या इससे गुजरात के चुनाव में हार्दिक पटेल की छवि पर कुछ असर पड़ेगा।

नीचे दी हुई खबरे भी जरुर पढ़ें-

सीडी कांड वाले संदीप कुमार कर रहे बीजेपी का प्रचार, यूजर्स ने उड़ाया मजाक

AAP के 13 नेताओं पर अपराध की कालिख

राम रहीम के बाद इस बाबा पर लगा रेप का आरोप, बाबा ने कहा ‘मैं नपुंसक हूं’

 

 

Sponsored






Follow Us

Yop Polls

नोटबंदी का एक वर्ष क्या निकला इसका निष्कर्ष

Young Blogger

Dont miss

Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Subscribe

Categories