page level


Monday, September 24th, 2018 06:37 PM
Flash

CWG के 88 साल के इतिहास में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, 66 पदकों पर भारत का कब्जा….




CWG के 88 साल के इतिहास में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, 66 पदकों पर भारत का कब्जा….Sports



ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में चल रहे कॉमनवेल्थ गेम्स का आज समापन हो गया है। गेम्स में भारतीय एथलीट्स का सफर काफी स्वर्णिम रहा। हर दिन भारत ने कभी गोल्ड, तो कभी सिल्वर और ब्रॉन्ज भारत के झोली में डाले। भारत ने कॉमनवेल्थ गेम्स में कुल 66 पदक जीते। जिसमें 26 गोल्ड, 20 सिल्वर और 20 ब्रॉन्ज मेडल जीते हैं। 66 पदकों के साथ भारत पदक तालिका में तीसरे स्थान पर रहा है।  गोल्ड कोस्ट में भारत ने 66 मेडल जीतकर कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के 500 मेडल पूरे कर लिए है।बता दें कि कॉमनवेल्थ के 88 साल के इतिहास में विदेश में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा है। इससे पहले 2010 में भारत ने अच्छा प्रदर्शन कर भारत का मान बढ़ाया था।

2014 में जीते थे 64 पदक-

बात अगर 2014 में ग्लास्गो में हुए कॉमनवेल्थ की करें तो उस समय भारत ने कुल 64 पदक अपने नाम किए थे। इस बार का प्रदर्शन पिछले बार के मुकाबला काफी अच्छा रहा है।

भारत ने 9 खेलों में जीते मेडल-

इस बार भारत ने 15 खेलों में हिस्सा और 9 में मेडल जीते। भारत ने 2010 में दिल्ली कॉमनवेल्थ खेलों में कुल 101 पदक जीते थे। वहीं 2002 के मैनचेस्टर खेलों में कुल 69 मेडल मिले थे। भारतीय एथलीटो ने हर खेल में बेहतर प्रदर्शन किया और हर खिलाड़ी ने देश के लिए मेडल जीतने के लिए पूरी ताकत झोंक दी।

ये है कॉमनवेल्थ के इतिहास में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन-

यह भारत का कॉमनवेल्थ गेम्स के 88 साल के इतिहास में विदेश में मेडल टेबल में स्थान के लिहाज से तीसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। इससे पहले 2002 और 2006 में चौथा स्थान विदेश में हुए कॉमनवेल्थ खेल में सर्वश्रेष्ठ रहा था। ओवरऑल इस इवेंट में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2010 में रहा था। तब अपनी मेजबानी में भारत दूसरे स्थान पर रहा था।

साल गोल्ड सिल्वर  ब्रॉन्ज कुल स्थान
2018 26 19 20 65 तीसरा
2014 15 30 19 64 5वां
2010 38 27 36 101 दूसरा
2006 22 17 11 50 चौथा
2002 30 22 17 69 चौथा

 

जानिए किस खेल में जीते कितने मेडल-

शूटिंग में इस बार शूटर्स ने 7 गोल्ड समेत 16 मेडल जीते हैं।

वेटलिफ्टिंग- वेटलिफ्टिंग में भारत ने पांच गोल्ड, दो सिल्वर और दो ब्रॉन्ज मेडल जीते हैं।

टेबल टेनिस में भी भारत की महिला और पुरुष टीम ने गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया। वही महिला एकल में मणिका बत्रा ने गोल्ड मेडल जीता। पुरुष युगल और महिला युगल मुकाबलों में भारत को सिल्वर मेडल मिला।

रेसलिंग में भारत ने 5 गोल्ड, तीन सिल्वर और चार ब्रॉन्ज समेत कुल 12 मेडल अपने नाम किए।

बैडमिंटन में भारत ने कुल 6 पदक जीते।

बॉक्सिंग में भी तीन गोल्ड, तीन सिल्वर और तीन ब्रॉन्ज के साथ भारत ने कुल 9 पदक जीते। मैरी कॉम ने अपना पहला कॉमनवेल्थ गोल्ड जीता।

ऐथलेटिक्स में भारत को तीन पदक मिले।

यह भी पढ़ें

  Commonwealth Games में भारत को मिला एक और गोल्ड

Commonwealth 2018: संजीता चानू ने बनाया नया रिकॉर्ड, भारत को दिलाया दूसरा “गोल्ड”

Commonwealth games 2018: जानिए कितना खूबसूरत है “गोल्ड कोस्ट”

Commonwealth Games 2018 : 25 साल के इस वेटलिफ्टर ने भारत को दिलाया पहला पदक

Sponsored