page level


Thursday, December 14th, 2017 03:30 PM
Flash




इंडिया का बेहतरीन बॉलर जो चोटों से जूझता रहा




इंडिया का बेहतरीन बॉलर जो चोटों से जूझता रहाSports

Sponsored




क्रिकेट देखने वालों को हेनरी ओलंगा ज़रूर याद रहते हैं। जिम्बावे का ऐसा बॉलर जिसका अजीब हेयर स्टाइल और बॉलिंग एक्शन अच्छे-अच्छों को डरा देता था। उसी बॉलर को एक ही ओवर में 4 छक्के मारकर धूल चटाने वाले थे ज़हीर खान। ज़हीर की हर अदा निराली थी। मैथ्यू हेडेन जैसे दमदार बैट्समैन को आउट करना वो भी गोल्डन डक के साथ या फ़िर साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ डबल विकेट मेडन या फ़िर ब्रेट ली जैसे क्रिकेटर की स्लेजिंग के जवाब पर चौका मारना।

कपिल देव और जवागल श्रीनाथ को छोड़ दिया जाए तो भारत के पास ज़हीर के अलावा फास्ट बॉलर के तौर पर शायद ही कोई रहा हो। ऐसा बॉलर जो तेज़ गेंद फ़ेंकता था और हवा में दोनों तरफ़ बॉल को घुमा सकता था।

आज यानी 7 अक्टूबर को ज़हीर अपना 39वां जन्मदिन मना रहे हैं। तो आइए उनके जन्मदिन के मौके पर जानते हैं उनसे जुड़ी कुछ ख़ास बातें…

कई रिकॉर्ड किए अपने नाम

ज़हीर ने अपने करियर में 92 टेस्ट मैच, 200 वनडे इंटरनेशनल और 17 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले। अनिल कुंबले 619, कपिल देव 434 और हरभजन सिंह 417 के बाद ज़हीर चौथे सबसे ज्यादा विकेट 311 लेने वाले बॉलर रहे हैं।

अगर फास्ट बॉलर की बात की जाए तो विकेट लेने में वे कपिल देव के बाद दूसरे नंबर पर हैं।

वनडे इंटरनेशनल में भी वे विकेट लेने के मामले में 282 विकेट के साथ चौथे नंबर पर रहे। पहले नंबर पर 337 विकेट के साथ अनिल कुंबले, 315 विकेट के साथ जवागल श्रीनाथ और 288 विकेट के साथ तीसरे नंबर पर अजीत अगरकर रहे थे।

वसीम अकरम 414 और चमिंदा वास 355 ही ऐसे लेफ्ट आर्म बॉलर हैं जिन्होंने टेस्ट मैच में ज़हीर से ज्यादा विकेट लिए हैं। इसके अलावा इंटरनेशनल विकेट लिस्ट में लेफ्ट आर्म बॉलर के रूप में भी ज़हीर 610 विकेट के साथ तीसरे नंबर पर हैं। इस लिस्ट में अकरम के विकेट 916 और वास के विकेट 761 हैं।

2003 से 2011 के बीच हुए वर्ल्ड कप में ज़हीर ने 44 विकेट लिए थे और ग्लेन मेक ग्राथ 71, मुरलीधरन 68, अकरम 55 और वास 49 के बाद पांचवे नंबर पर थे।

चोटों ने खराब किया करियर

जहीर खान के करियर को सबसे ज्यादा नुकसान चोटों ने पहुंचाया। टीम के स्ट्राइक बॉलर होने के बाद भी कई सीरीज में उन्हें चोटिल होने के कारण बाहर बैठना पड़ा। उन्होंने आखिरी टेस्ट फरवरी, 2014 में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेला था। वहीं, आखिरी वनडे अगस्त, 2012 में श्रीलंका के खिलाफ और आखिरी टी20 भी 2012 में ही साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेला था। उसके बाद वे टीम में वापसी नहीं कर सके। 2015 में आईपीएल-8 में भी उनकी परफॉर्मेंस ज्यादा दमदार नहीं रही। हालांकि, टूर्नामेंट से पहले जहीर ने कहा था कि वो आईपीएल में अच्छी परफॉर्मेंस कर टीम इंडिया में वापसी करना चाहेंगे।

ईशा से रहा था अफेयर

जहीर ने अब तक शादी नहीं की है, परन्तु कभी उनका अफेयर बॉलीवुड एक्ट्रेस ईशा शेरवानी से था। जहीर खान कभी एक्ट्रेस ईशा शेरवानी के साथ रिलेशनशिप में थे। शुरू में उन्होंने इस रिश्ते को मीडिया से दूर रखा। जब दोनों कई बार साथ घूमते स्पॉट हुए तो बात सामने आई। चर्चा यहां तक थी कि 2011 वर्ल्ड कप के बाद ये जहीर शादी करने वाला है, लेकिन अचानक ही इनके ब्रेकअप की खबर मीडिया में आ गई। आठ साल के रिलेशनशिप के खत्म होने के बाद जहीर और ईशा से इस विषय में कोई बात नहीं की।

फीमेल फैन को दिया था फ्लाइंग किस

2011 में बेंगलुरु में पाकिस्तान और भारत के बीच तीसरा टेस्ट मैच खेला जा रहा था। पाकिस्तान के पहली पारी में बनाए गए 570 रनों का जवाब देने के लिए भारतीय टीम के बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग और राहुल द्रविड़ क्रीज पर थे। तभी कैमरा मैच देख रही एक लड़की की ओर घूमा, जहां वो ’’आई लव यू ज़हीर’’ लिखा पोस्टर लेकर बैठी थी। जैसे ही लड़की स्कोर अपडेट करने वाली स्क्रीन पर आई, जहीर खान का चेहरा देखने लायक था। हालाकि युवराज सिंह सहित साथी खिलाड़ियों के उकसाने के बाद जहीर खान भी पीछे नहीं रहे और उन्होंने इस फीमेल फैन को फ्लाइंग किस दिया। जवाब में लड़की ने भी कुछ ऐसा ही किया।

जब कभी भी टीम इंडिया के बेहतरीन गेंदबाजों का जिक्र किया जाएगा उसमें एक नाम जहीर खान का भी होगा। तेजी के साथ स्विंग कराने की अद्भुत क्षमता रखने वाले लेफ्ट आर्म स्पिनर जहीर खान का चोटों के साथ चोली दामन का साथ रहा। चोटों के कारण जहीर टीम से अंदर-बाहर होते रहे और 2015 में उन्होंने ट्विटर के जरिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

टीम इंडिया में अगर स्पिन गेंदबाजी की विरासत की बात की जाए तो वो समय समय पर अपना उत्तराधिकारी पाती रही। हरभजन सिंह के बाद स्पिन गेंदबाजी की विरासत संभालने के लिए आर अश्विन तैयार हो चुके हैं, लेकिन अगर तेज गेंदबाजी की बात की जाए तो कपिल के बाद जवागल श्रीनाथ और उसके बाद जहीर ने इस विरासत को आगे बढ़ाने की कोशिश की मगर जहीर के बाद टीम इंडिया की विरासत संभालने वाला एक भी उम्दा गेंदबाज नहीं मिला।

Sponsored






Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें