page level


Thursday, December 14th, 2017 06:27 PM
Flash




ISIS से जंग लड़कर लौटी पूर्व मॉडल ने शेयर किए खौफनाक किस्से




कनाडा। ISIS से जंग लड़ने गईं कनाडा की पूर्व मॉडल टाइगर सन वैंकुवर (46) अब वापस लौट आई हैं। उन्होंने आतंकियों के खिलाफ लड़ रहे कुर्द फाइटर्स की पीपुल्स प्रोटेक्शन यूनिट के लिए चार महीनों तक जंग लड़ी है। एक अंग्रेजी वेबसाइट को दिए गए इंटरव्यू में टाइगर ने जंग के दौरान हुए खौफनाक अनुभव बांटे हैं। उन्होंने कहा है कि अगर उन्हें मौका मिला तो वह दोबारा सीरिया लौटना चाहेंगी।

 

 

वीडियो देखकर किया जंग लड़ने का फैसला

जाम्बिया में जन्मी यह मॉडल काफी जज्बे से भरी है। उनका कहना है कि वहां जाने की इच्छा उन्हें एक वीडियो देखकर हुई थी। एक वीडियो में जब ISIS के आतंकियों का कहर देखा तो उनकी रूह कांप गई। ऐसे में वे बस इस राह पर निकलने के लिए एक मिशन की तलाश में लग गईं थीं। तभी उन्होंने कुर्द फाइटर्स पीपुल्स प्रोटेक्शन यूनिट में शामिल होने का इरादा बना लिया और उसमें शामिल हो गईं। टाइगर एक बच्ची की मां हैं, लेकिन वह ISIS की करतूतों से इस कदर गुस्से से भर गई थीं कि अपनी बच्ची को कनाडा में छोड़कर वह खुद ही सीरिया चली गईं।

 

आतंकियों को ढूंढती थीं टाइगर

टाइगर ने किसी आतंकी को खुद नहीं मारा। वे अपने साथ एक दूरबीन ले गई थीं, जिसकी मदद से वे अपने ग्रुप को आतंकियों की लोकेशन बताती थीं। इस जंग में टाइगर एक महिला के साथ थीं, जिसने 28 जिहादियों को मारा था। टाइगर ने बताया कि आतंकी हमेशा मेरे निशाने से दूर होते थे। उन्होंने बताया कि एक बार गश्त मारते हुए उनका पैर कटी उंगली पर पड़ गया था। काफी ढूंढने के बाद भी उन्हें मृतक के शरीर का बाकी हिस्सा नहीं मिला।

 

बांटे खौफनाक अनुभव

एक इंटरव्यू में टाइगर ने बताया कि उन्होंने अपनी आंखों के सामने एक बच्ची को लैंडमान के धमाके में मरते हुए देखा। उस बच्ची को बचाने के लिए जरूरी मेडिकल ट्रेनिंग कुर्दों को नहीं मिली थी। वह बताती हैं कि कुछ समय बाद उन्हें हिंसा देखने की आदत हो गई थी। उन्हें लाशों से डर नहीं लगता था। उन्होंने बताया कि एक बार उन्हें ऐसी जगह पर बैठकर लंच करना पड़ा जहां आसपास सड़ी लाशें और खोपड़ियां पड़ी थीं।

 

Sponsored






Loading…

You may also like

No Related

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें