page level


Tuesday, December 12th, 2017 11:47 PM
Flash




नेत्रहीन मनस्वी ने साइकिल से फतह किया हिमालय




नेत्रहीन मनस्वी ने साइकिल से फतह किया हिमालयSocial

Sponsored




हिमालय की चोटी को फतह करना यूं तो आसान नहीं है, फिर भी हमारे देश में ऐसे बहुत से पर्वतारोही हैं, जिन्होंने अपनी मेहनत और जुनून से हिमालय की चोटी पर पहुंच एक इतिहास रच डाला। हाल ही में मनस्वी, जो अभी मात्र 15 साल की हैं, उन्होंने हिमालय को फतह कर एक मिसाल कायम की है। ये तो अपने आप में एक रिकॉर्ड है ही लेकिन इससे भी बड़ी बात ये है कि उन्होंने टैंडम साइकिल के जरिए ये इतिहास रचा है।

दरअसल, 15 साल की मनस्वी बाहेती ने हिमाचल प्रदेश के मनाली से जम्मू-कश्मीर के खारदूंग ला पास तक का सफर तय कर लिया है। उनकी ये उपलब्धि खास इसलिए भी है क्योंकि मनस्वी अंधेपन की शिकार हैं, उन्होंने बचपन में ही अपनी आंखें खो दी थीं। लेकिन कहा जाता है ना कि अगर मन में विश्वास और खुद पर यकीन हो तो अपने सपनों को पूरा करना इतना मुश्किल भी नहीं है। बस वही किया मनस्वी ने और देखिए आज उन्हीं की मेहनत रंग लाई और वे हिमालय फतह कर पाईं।

टैंडम साइकिल वो साइकिल होती है, जिसमें दो सीटें होती हैं। इसे दो लोग मिलकर चलाते हैं। मनस्वी और उनके पिता भारत में पहली बार हो रहे टैंडम साइकिल अभियान में शामिल हुए थे। वह उन दस जोड़ों में से थे, जिन्होंने दो हफ्तों से भी कम समय में ये सफर तय किया। मनस्वी इसमें सबसे कम उम्र की प्रतिभागी थी। इस अभियान को एडवेंचर बियॉन्ड बैरियर्स फाउंडेशन ने आयोजित किया था। वैसे इस फाउंडेशन का मकसद किसी भी तरह की अक्षमता से जूझ रहे लोगों को अन्य लोगों के साथ लेकर एडवेंचर स्पोट़्र्स में शामिल करना था।

एबीबीएफ के संस्थापक दिवांशु गनात्रा ने कहा कि वैसे ये कॉम्पीटीशन प्रोफेशनल लोगों के लिए भी बहुत मुश्किल है, लेकिन मनस्वी ने अपने जुनून और हिम्मत से ये हिमालय फतह किया। मानस्वी की मां बताती हैं कि मानस्वी को बचपन से ही साइकिल राइडिंग का शौक है। उसके लिए हम काफी समय से टैंडम साइकिल ढूंढ भी रहे थे, लेकिन जब इस अभियान में हिस्सा लेना ही था, तो हमने इंटरनेशनल ब्रांड की टैंडम साइकिल मंगा ली। जिस पर मानस्वी रोज टे्रनिंग लेती थी। अपनी आंखों को खो चुकी मानस्वी उन सभी लड़कियों के लिए मिसाल है, जिन्होंने किसी अक्षमता से गुजरने के साथ जिन्दगी से हार मान ली है।

Sponsored






Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें