page level


Tuesday, September 25th, 2018 04:17 PM
Flash

नियरफिट ने रायपुर को स्वास्थ्य की नई दुनिया से परिचित कराया




नियरफिट ने रायपुर को स्वास्थ्य की नई दुनिया से परिचित करायाEducation & Career



भारतीय प्रबंध संस्थान रायपुर के छात्र लोगों की फिटनेस के प्रति सोच को बदलने के एक मिशन पर हैं। दरअसल, भारतीय प्रबंध संस्थान रायपुर में पढ़ाई करते हुए प्रियाजीत घोष, अरको विश्वास और अनुपम दत्ता ने पाया कि भारत 2030 तक दुनिया के सबसे अधिक आबादी वाले देश बनने की दिशा में तेजी से बढ़ रहा है। यह दुनिया का सबसे अस्वस्थ्य राष्ट्र भी बन सकता है जिसके चलते वे इसे बदलने का प्रयास कर रहे है।

टीचर्स-डे पर इंदौर के लोगों ने कुछ इस तरह बयां किया ‘गुरु-शिष्य’ का रिश्ता

वैसे आईआईटी, एनआईटी और आईआईआईटी से अन्य सह-संस्थापकों विनय खोबरगड़े, अभिषेक कृपाल और आनंद पंचभाई के साथ इस युवा स्टार्टअप के सभी संस्थापक अभी तक स्नातक नहीं हुए हैं। वहीं छात्र उद्यमी एक बेहद चुनौतीपूर्ण एमबीए पाठ्यक्रम से गुजरते हुए संस्थापकों के लिए यह अब तक एक कठिन यात्रा साबित हुई है लेकिन भारतीय प्रबंध संस्थान रायपुर के उद्यमशीलता के निरंतर समर्थन ने उन्हें ऐसा वातावरण तैयार करने में मदद की है जहां स्टार्टअप बढ़ सकता है।

हाल ही में छात्रों ने एआईसी छत्तीसगढ़ राज्य द्वारा संचालित इनक्यूबेशन सेंटर में शामिल हुए हैं। निअरफिट ने रायपुर में 30 से फिटनेस सेंटर के साथ गठबंधन किया है। टीम खेल और जिम प्रशिक्षण को शामिल करते हुए फिटनेस के प्रति लोगों की सोच बदलना चाहती है और छत्तीसगढ़ में खेल समुदाय के निर्माण पर अधिक ध्यान केंद्रित करते हुए काम कर रही है।

छुट्टी वाले दिन शहर की सफाई करता है इंदौर का ये ग्रुप

रायपुर का पहला वॉटर पोलो टूर्नामेंट जिसे ‘पानी में फुटबॉल भी कहा जाता है’ का आयोजन 2 सितंबर को अक्षांस इंटरनेशनल स्विमिंग सेंटर में आयोजित किया गया था। जहां सभी रायपुरियों को एक खुली चुनौती दी गई थी। वॉटर पोलो में गेंदों के साथ तैरते हुए प्रतिद्वंद्वी के गोल में गेंद फेंकना होता है। इस कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ के प्रतिष्ठित संस्थानों जैसे आईआईएम रायपुर, आईआईटी भिलाई, एनआईटी रायपुर, एमिटी विश्वविद्यालय रायपुर और अन्य 100 से अधिक पंजीकरण हुए। राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान रायपुर ने पहला स्थान प्राप्त किया।

नियरफिट कार्यक्रम डेकैथलॉन के साथ दुनिया की सबसे बड़ी खेल कंपनियों में से एक छत्तीसगढ़ में आने वाले दिनों में अद्वितीय और आकर्षक खेल आयोजनों की एक श्रृंखला आयोजित करने की योजना है। यह पहल छत्तीसगढ़ में खेल समुदाय को बढ़ावा देगी और बढ़ाएगी।

इंदौर: शहर से रोज़ उठ रहा कचरा जाता कहाँ है?

नियरफिट के सीईओ प्रियनजीत घोष के अनुसार जब आप आईआईएम रायपुर जैसे किसी स्थान पर पढ़ते हैं, जहाँ चारों ओर महान विचार का प्रसार होता रहता है तब आप सहज ही समाज पर प्रभाव डालने के लिए आवश्यक पर्याप्त रचनात्मकता प्राप्त कर ही लेते हैं। आईआईएम रायपुर में हर छात्र यही करता है। हमें उम्मीद है कि आईआईएम रायपुर के अधिक से अधिक छात्र उद्यमी बनने और समाज में छात्र उद्यमिता की भावना को बढ़ावा देने के लिए प्रेरित होंगे।

Sponsored