page level


Thursday, December 14th, 2017 06:43 PM
Flash




NRI कोटे से मेडिकल कॉलेजों में गलत दाखिला लेने वालो पर अब गिरेगी गाज




NRI कोटे से मेडिकल कॉलेजों में गलत दाखिला लेने वालो पर अब गिरेगी गाजEducation & Career

Sponsored




जबलपुर: चिकित्सा विज्ञान विश्व विद्याालय ने हाल में सभी निजी मेडिकल तथा डेंटल कॉलेजों को पत्र लिख एनआरआई कोटे के तहत दाखिला पाने वाले छात्रों के दस्तावेज तलब किये है. साथ ही सभी कॉलेजों को पत्र लिखकर 10 अक्टूबर तक आवश्यक दस्तावेज उपलब्ध करने के निर्देश दिये है.

विश्व विद्यालय ने पत्र लिख कर सभी सरकारी और निजी मेडिकल कॉलेज एवं डेंटल कॉलेजों से कहा है कि वर्ष 2016-17 में बीडीएमएस, एमबीबीएस, एसडीएस तथा एमडी, एमएस, डिप्लोमा, सुपर स्पेशलिस्ट पाठ्यक्रम में दाखिला लेने वाले छात्रों के आवश्यक दस्तावेज 10 अक्टूबर तक जमा करवाए, अन्यथा कॉलेज प्रबंधन जिम्मदार होगा.

साथ ही विश्व विद्यालय ने कॉलेज प्रबंधन से कहा है कि, छात्रों को आप ने किस आधार पर एनआरआई कोटे पर प्रवेश दिए है उनके दस्तावेज़ हमे दे. साथ ही विश्व विद्यालय ने कहा है कि प्रवेश परीक्षा तथा अलॉटमेंट लेटर भी विश्व विद्यालय को सौपें.

वही विश्व विद्यालय के कुलपति डॉ आर एस शर्मा ने बताया कि मेडिकल कॉलेज में निर्धारित सीटों का 15 प्रतिशत एनआरआई कोटा निर्धारित रहता है. विश्व विद्यालय के अधीन प्रदेश के सभी 6 मेडिकल कॉलेजों के अलावा सात निजी मेडिकल कॉलेज आते है.

इन मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस कोर्स के लिए 150 सीट आवंटित है. इसके अलावा एमसीआई द्वारा प्रतिवर्ष एमडी, एमएस, डिप्लोमा, सुपर स्पेशलिस्ट पाठ्यक्रम के लिए सीट आवंटित करता है. इसके अलावा शासकीय इंदौर डेंटल कॉलेज सहित 10 डेंटल कॉलेज विश्व विद्यालय के अधीन है. इन कॉलेजों को पत्र जारी कर एनआरआई कोटे के तहत दाखिला लेने वाले छात्रों से संबंधित दस्तावेज मांगे है. जो छात्र आपात्र होगे उनके नामांकन विश्व विद्यालय द्वारा नहीं किया जायेगा.

Sponsored






Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें