page level


Tuesday, September 18th, 2018 11:52 PM
Flash

अब ट्रेन की सीट के लिए भी मिलेगा “कोटा”, जानें किस उम्र के लोगों को मिलेगी कौन सी सीट




अब ट्रेन की सीट के लिए भी मिलेगा “कोटा”, जानें किस उम्र के लोगों को मिलेगी कौन सी सीटAuto & Technology



अब तक आपने नौकरी में रिजर्वेशन यानि कोटा की बात तो सुनी होगी , लेकिन अब रेलवे अब ट्रेन की सीटों के संबंध में कोटा शुरू करने की तैयारी कर रहा है। इस पॉलिसी के तहत वेटिंग में सफर करने वाली महिलाओं को ज्यादा फायदा होगा, लेकिन उन्हें उनकी उम्र के अनुसार ही सीट दी जाएगी।

दरअसल, रेलवे अब ऐसा सिस्टम डवलप करने जा रहा है, जिसमें वेटिंग टिकट को कंसर्म करने में महिलाओं को प्राथमिकता दी जाएगी, लेकिन वो भी उनकी उम्र के हिसाब से।

महिलाओं के लिए 6 बर्थ का कोटा-

अब तक ट्रेन में महिलाओं को कभी लोअर, कभी मिडिल तो कभी अपर सीट भी मिल जाती थी। इसमें सबसे ज्यादा दिक्कत 50 साल से ज्यादा उम्र की महिलाओं को होती थी। खासतौर से जब टिकट कंफर्म न हो, तो ऐसे में महिलाओं को सबसे ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसलिए अब ट्रेन में महिलाओं के लिए लोअर बर्थ का कोटा तय कर दिया गया है। हालांकि इसके लिए अलग-अलग कैटेगरी के कोच में सीटों की संख्या अलग-अलग तय की गई है। मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में महिलाओं के लिए 6 बर्थ का कोटा तय किया गया है।

प्रेग्नेंट महिलाओं को मिलेगी लोअर बर्थ-

रेलवे ने इस नियम के तहत ट्रेन में सफर करने वाली प्रेग्नेंट महिलाओं को भी एक सहूलियत दी है। इसके तहत प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए ई-टिकट बुकिंग सिस्टम में भी लोअर बर्थ देने का कॉलम जोड़ा जाएगा। यानि की प्रेग्नेंट महिला को लोअर बर्थ ही प्रोवाइड की जाएगी। इसी तरह गरीब रथ के थर्ड एसी कोच में भी 6 बर्थ कोटा के तहत महिलाओं के लिए रिजर्व की गई हैं। बता दें कि प्रेग् नेंट महिलाओं को अब तक ये सुविधा खिड़की से टिकट बुक कराने पर मिल रही है, लेकिन जल्द ही अब इसे ई- टिकटिंग में भी अपडेट किया जाएगा।

45 से ज्यादा उम्र की महिलाओं के लिए 3-3 सीट रिजर्व-

जैसा कि हमने बताया कि इस पॉलिसी के तहत उम्र के हिसाब से हर कोच में महिलाओं की सीट तय होगी। वहीं थर्ड एसी और सैकंड एसी कोच में उन महिलाओं के लिए 3-3 बर्थ रिजर्व रखी जाएंगी, जिनकी उम्र 45 से ज्यादा है। राजधानी और दुरंतो के साथ पूरी तरह से एसी ट्रेनों के थर्ड एसी कोच में 4 लोअर बर्थ का कोटा तय किया गया है। इनमें प्रेग्नेंट महिलाओं को तवज्जो दी जाएगी।

खाली सीट पर मिलेगी महिलाओं को प्रायोरिटी….

रेलवे ने ट्रेन में खाली पड़ी सीटों पर महिलाओं को पहले तवज्जो दी है। अब खाली पड़ी सीटों पर टीटीई महिलाओं को पहले सी देंगे। इसके अलावा यदि महिलाएं ग्रुप में हैं, तो उन्हें उनकी उम्र के हिसाब से बर्थ मिलेगी। बता दें कि महिलाओं की लोअर बर्थ कंफर्म करने के लिए रेलवे की आईटी ब्रांच द्वारा रिजर्वेशन सिस्टम में नए सॉफ्टवेयर को डवलप किया जा रहा है। जल्दी ही इसे लागू किया जाएगा।

यह भी पढ़ें

इन 5 रेलवे स्टेशनों को चलाती हैं देश की महिलाएं

आम आदमी को भी रेलवे रिजर्वेशन में मिलता है कोटा जानिए कैसे?

सरकार ने रेलवे में किए 5 बदलाव, पैसों से जुड़ा है मामला

 

Sponsored