page level


Tuesday, August 14th, 2018 03:12 PM
Flash

“तीन तलाक” आरोपी होगा जमानत का हकदार, आज राज्यसभा में पेश होगा बिल




“तीन तलाक” आरोपी होगा जमानत का हकदार, आज राज्यसभा में पेश होगा बिल



तीन तलाक को लेकर काफी राजनीति हो रही है। लेकिन अब इस मामले में कैबिनेट ने तीन तलाक संशोधन को मंजूरी दे दी है। इसी के साथ आज तीन तलाक बिल राज्यसभा में पेश किया जाएगा। इस बिल के तहत अब आरोपी मजिस्ट्रेट से जमानत ले सकता है। वैसे इस बिल के तहत जमानत का प्रावधान नहीं है लेकिन अगर मजिस्ट्रेट चाहे तो बेल मिल जाएगी।

जाहिर है कि तीन तलाक बिल को लेकर लंबे समय से बहस छिड़ी हुई है, जिसमें अब मामले को मंजूरी दे दी गई है। इस बिल के अनुसार तीन तलाक को अपराध घोषित कर दिया गया था। बिल के मुताबिक अगर कोई इसका उल्लंघन करता है तो इसके लिए तीन साल तक की सजा और जुर्माने का प्रावधान किया है। अब कहा जा रहा है कि मोदी सरकार तीन तलाक और निकाह हलाला संबंधी मुस्लिम महिला विधेयक , 2017 में भी कुछ संशोधन के प्रयास कर रही है। अगर इसे मंजूरी मिल जाती है तो एक बार में तलाक देने वाले की तीन साल की सजा को कम किया जा सकता है।

तीन तलाक से संबंधित मुसलिम महिला विवाह संरक्षण बिल लोकसभा से पास हो चुका है। यह बिल एनडीए की अल्पमत वाली राज्यसभा में अंटका हुआ है। विपक्ष शुरु से आरोपी के जमानत के प्रावधान नहीं होने के मसले पर इस बिल का विरोध कर रहा है। इस पर  केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने विपक्ष से इस को पारित कराए जाने की अपील करते हुए कहा कि यदि सोनिया गांधी, मायावती और ममता बनर्जी लैंगिक समानता चाहती हैं तो उन्हें बिल का विरोध नहीं करना चाहिए।

बिल के वर्तमान प्रावधान के अनुसार एक बार में तीन तलाक बोलकर शादी के बंधन से अलग होने वाली महिला अपने और नाबालिग बच्चे के लिए मुआवजा मांगने की हकदार होगी। इसके साथ ही नाबालिग बच्चे को अपने पास रखने और उसकी परवरिश करने का हक भी उस महिला का ही होगा। हालांकि इस पर मजिस्ट्रेट ही अपना अंतिम फैसला सुनाएगा।

यह भी पढ़ें

ट्रिपल तलाक मज़हबी नहीं बल्कि सोश्यल रिफॉर्म से जुड़ा मुद्दा – नकवी

तलाक, निकाह के कन्फ्यूजन को मिटाने के लिए मुस्लिम बोर्ड ने अपनाया ये तरीका

ये है मप्र का “उम्रदराज तलाक”, वजह ऐसी कि सुनकर दंग रह जाएंगे आप..

आज SC में “निकाह हलाला” का विरोध करेगी मोदी सरकार, जानिए क्या है ये प्रथा

Sponsored






You may also like

No Related News