page level


Sunday, December 17th, 2017 05:44 PM
Flash




2 लाख तक के गहने खरीदने पर नहीं लगेगा पेन कार्ड, इन चीज़ों के घटे दाम




2 लाख तक के गहने खरीदने पर नहीं लगेगा पेन कार्ड, इन चीज़ों के घटे दामBusiness

Sponsored




जैसा की आप सभी जानते है वस्तु एवं सेवा कर (GST) भारत सरकार की नई अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था है जो 1 जुलाई 2017 से लागू की गई थी. लेकिन शुरुआत से ही यह कमजोर नजर आ रही है शायद यही वजह है कि सरकार द्वारा एक के बाद एक जीएसटी काउन्सिल की बैठके की जा रही है. इतना ही नहीं हाल ही में जीएसटी काउन्सिल की 22वीं बैठक सम्पन्न हुई है जिसमे सरकर ने महत्वपूर्ण फैसले लिए है.

बताया जा रहा है कि इस बैठक में सरकार ने कुछ खास फैसले लिए जिनमें रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया को मासिक के बजाए तिमाही करने, कुछ वस्तुओं पर टैक्स की दरों को कम करने और अन्य फैसले सम्मिलित है. आइए जानते है बैठक में और क्या-क्या फैसले लिए गये.

-दिवाली और धनतेरस से पहले सर्राफा कारोबारियों को मनी लांड्रिंग एक्ट से बाहर कर दिया है.

-अब 2 लाख रुपए तक की ज्वेलरी खरीदने के लिए पैन कार्ड या आधार कार्ड का विवरण नहीं देना होगा.

-बच्चों के खाने-पीने की डब्बा बंद चीजों (ICDS) पर जीएसटी की दर 12 फीसदी से घटाकर 5 फीसदी की गई.

-आम पापड़, खाकरा, चपाती पर टैक्स में 7 फीसदी की कटौती कर 5 फीसदी किया गया है.

-स्टेशनरी पर 28 फीसदी के टैक्स को कम करके 18 फीसदी कर दिया गया है.

-प्लास्टिक वेस्ट और रबर वेस्ट पर अब 18 से बजाए 5 फीसद की दर से जीएसटी देना होगा.

-वहीं पेपर वेस्ट पर 12 के बजाए 5 फीसद जीएसटी देना होगा.

-अनब्रांडेड आयुर्वेदिक दवाओं पर जीएसटी की दर 5 फीसदी की गई है. पहले यह 12 फीसदी थी.

-हाथ से बने धागों पर 18 फीसदी की जीएसटी को कम करके 12 फीसदी किया गया है.

यह भी पढ़े: जिन कारों के लोग सपने देखते हैं, उन कारों पर मिल रहा है बेस्ट EMI ऑफर्स

Sponsored






Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें