page level


Sunday, December 17th, 2017 12:48 AM
Flash




इस महिला का पीएम मोदी से है खास कनेक्शन, जानिए कौन है ये महिला




इस महिला का पीएम मोदी से है खास कनेक्शन, जानिए कौन है ये महिलाPolitics

Sponsored




देश के प्रधानमंत्री यूं तो अक्सर बड़ी महिला शख्सियतों के साथ नजर आते हैं, लेकिन इस बार उनकी एक महिला के साथ तस्वीर इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। देखने वाले हैरान हैं कि आखिर ये महिला है कौन और पीएम मोदी से इस महिला का क्या कनेक्शन है। तो बता दें कि इस महिला को केवल पीएम मोदी के साथ ही नहीं बल्कि अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा, पेप्सिको की सीईओ इंद्रा नूयी, कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो आदि के साथ भी कई बार देखा गया है। इसलिए ये कोई साधारण महिला तो नहीं हो सकती। वैसे तो अब तक ये महिला सुर्खियों में नहीं आई थी, लेकिन फोटो वायरल होने के बाद सभी का सवाल है कि आखिर ये महिला है कौन। तो हम आपको बता दें कि इस महिला का नाम है गुरदीप कौर चावला। ये महिला कोई डिप्लोमेट या नेता नहीं है, बल्कि एक ट्रांसलेटर है।

गुरदीप
जी हां, जब भी नरेन्द्र मोदी विदेश के दौरे पर होते हैं, तो हर बार ये महिला उनके साथ जाती हैं। वहां मोदीजी कोई हिंदी में स्पीच देते हैं तो उसे अंग्रेजी में ट्रांसलेट करती हैं। सिर्फ इन्हीं की वजह से विदेशी मंत्री पीएम मोदी की स्पीच समझ पाते हैं।

गुरदीप

पिछले 27 सालों से इस क्षेत्र में काम कर रहीं गुरदीप कौर की लाइफ तब बदल गई जब 2010 में उन्हें बराक ओबामा का इंटरप्रिटेटर बनने का सुनहरा मौका मिला। उन्होंने अपने करियर की शुरूआत 1990 में भारतीय संसद से की थी। हालांकि 1996 में शादी के बाद उन्हें ये काम छोडऩा पड़ा। लेकिन बराक ओबामा से मिलने के बाद उनकी लाइफ में टर्निगं पॉइंट आ गया। बताया जाता है कि जब बराक ओबामा भारत आए थे तो गुरदीप भी उनके साथ ट्रांसलेटर बनकर आई थीं।

गुरदीप

गुरदीप
बता दें कि गुरदीप का तकनीकी और भाषा का ज्ञान बहुत अच्छा है। प्रॉपर ग्रामर के साथ उनकी वॉइस भी काफी अच्छी है। उन्होंने अब तक यूएस स्टेट डिपार्टमेंट, जूडिशियल कॉउंसिल ऑफ कैलीफॉर्निया, फैडेरल कोर्ट, मिलिट्री कोर्ट, लीगल इमीग्रेशन और इंश्योरेंस केसेस में काम किया है। वह कई तरह के मैनुअल्स, डॉक्यूमेंट्स भले ही वह मेडिकल क्षेत्र के हों या आर्मी, मार्केटिंग, लॉ, एंटरटेनमेंट, एस्ट्रोलॉजी या फिर टेक्नोलॉजी हर तरह के क्षेत्र में डॉक्यूमेंट्स को ट्रांसलेट करने का काम किया है।

गुरदीप ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि उन्होंने दुनिया की बड़ी शख्सियतों के साथ रहकर बहुत कुछ सीखा है। खासतौर पर काम करने और सफल होने का तरीका। उन्होंने कहा था कि अपने काम को बोझ नहीं बल्कि पैशन समझो। मैंने वही किया और आज मैंने जो भी कुछ सीखा है वो मेरी जिंदगी का सबसे अच्छा अनुभव है।

यह भी पढ़ें

जब एक साधारण BJP कार्यकर्ता को पीएम मोदी ने किया फ़ोन, सुने पूरी बातचीत

38 साल की उम्र में बने सबसे यंग पीएम, इंडिया से है ख़ास कनेक्शन

पीएम मोदी के “पेन” की कीमत जानकर उड़ जाएंगे आपके होश

जानिए कौन तैयार करता है पीएम मोदी के भाषण

Sponsored






Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें