page level


Thursday, December 14th, 2017 04:03 PM
Flash




पुतिन को तोहफे में ‘कुत्ता’ ही क्यों मिला?




पुतिन को तोहफे में ‘कुत्ता’ ही क्यों मिला?PoliticsWorld

Sponsored




एक देश के नेता का दूसरे देश जाना और आना लगा ही रहता है। आपने देखा होगा कि जब भी कोई देश का बड़ा नेता देश का नेतृत्व करते हुए किसी दूसरे देश जाता है तो वहां उन्हें तोहफा दिया जाता है। ये तोहफे काफी ख़ास होते हैं तो कुछ ऐसा ही ख़ास तोहफा रूस के राष्ट्रपति को तुर्कमेनिस्तान के राष्ट्रपति ने दिया जिसे उन्होंने बड़ी खुशी के साथ स्वीकार भी किया।

तुर्कमेनिस्तान के राष्ट्रपति कुरबांगुली बेर्डीमुखामेडोव जब रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमिर पुतिन से मिले तो गुरबांगुली ने पुतिन के लिए एक तोहफा मंगाया। इस तोहफे में पुतिन के लिए कुत्ता था। अब आप सोच रहे होंगे कि किसी देश का राष्ट्रपति दूसरे देश के राष्ट्रपति को गिफ्ट में कुत्ता देता है क्या? लेकिन यकीन मानिए ये कुत्ता ‘आम’ नहीं ‘ख़ास’ गिफ्ट है।

यह भी पढ़ें- इस देश में फ्री मिलता है पेट्रोल, बिजली और गैस

पुतिन से बातचीत के बाद कुरबांगुली ने बताया कि ‘‘हम कॉमन फ्रेंड हैं और ये कुत्ता दुनिया का सबसे यूनिक अलबाई कुत्ता है और आज में इसे पुतिन को दे रहा हूं।’’ आपको बता दें कि अलबाई तुर्कमेनिस्तान की कुत्तो की एक यूनिक नस्ल है जो सेंट्रेल एशियन शेपर्ड डॉग की एक वेराइटी है। यह ही पढ़ें- 23 साल की ब्यूटी क्वीन से इश्क लड़ा रहे हैं पुतिन?

हाल ही में पुतिन का बर्थडे भी था जिसके लिए कुरबांगुली ने उन्हें यह तोहफा दिया। तोहफा पाकर पुतिन काफी खुश हुए। वफादारी के इस प्रतीक को पाकर उन्होंने खुशी में उस कुत्ते के माथे पर किस किया और उसे अपनी गोद में बिठा लिया। आपको बता दें कि ये सारी फोटोज़ और वीडियो सोची में हुई एक्स सोवियत स्टेट समिट के हैं जहां पर ये दोनों एक दूसरे से मिले।

 

Courtesy- The Sun

Sponsored






Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें