page level


Thursday, December 14th, 2017 10:04 AM
Flash




UP बोर्ड ऑनलाइन प्रक्रिया में 14 लाख छात्रों की संख्या घटी, यह बड़ा कारण बताया




UP बोर्ड ऑनलाइन प्रक्रिया में 14 लाख छात्रों की संख्या घटी, यह बड़ा कारण बतायाEducation & Career

Sponsored




यूपी बोर्ड परीक्षा में हिस्सा लेने वालें छात्रों की संख्या लाखों में कम हो गई। इस बार कक्षा 9 और 11 में पिछले साल की तुलना में 14 लाख कम रजिस्ट्रेशन हुए है। ये छात्र 2017-18 के शैक्षिक सत्र में परीक्षा देंगे। पिछले शैक्षिक सत्र 2017-18 के शैक्षिक सत्र में परीक्षाएं देंगे। पिछले सत्र में 67 लाख से ज्यादा छात्रों ने माध्यमिक शिक्षा परिषद परीक्षाओं के लिए रजिस्ट्रेशन कराया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस साल यूपी बोर्ड में छात्रों की संख्या गिरकर 53.34 लाख पर आ गई है। जिससे 13.66 लाख छात्र इस बार यूपी बोर्ड की परीक्षाओं में कम हो गए हैं।माध्यमकि शिक्षा बोर्ड के आंकड़े देखें तो इस बार कक्षा 9 में 30.05 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था, जबकि 23.3 लाख छात्र कक्षा 11 में रजिस्टर्ड हुए थे।

यूपी बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव ने मीडिया को बताया कि आश्चर्य वाली बात यह है कि यह संख्या इसलिए घटी क्योंकि इस बार डयूप्लिकेट छात्रों को बाहर कर दिया गया है। इस साल यपी बोर्ड की वेबसाइट को अपग्रेड किया गया है। इसका परिणाम यह रहा कि छात्रों की संख्या इतनी कम हो गई है। डयूप्लिकेसी से बचने के लिए कई बार नामों की चैकिंग की गई है और उन्हें हटा गया है। ं

सूत्रों के मुताबिक छात्रों की संख्या कम होने का एक कारण यह भी है कि कई स्कूलों कें प्रिंसिपल ने अभी तक छात्रों का रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन नहीं कराया है। 2 अक्टूबर को रजिस्ट्रेशन खत्म हो गया। कई प्रिंसिपल को तकनीकी समस्या के कारण जूझना पड़ा। साथ ही वेबसाइट में तकनीकी खामियों की वजह से कई छात्र रजिस्ट्रेशन नहीं करवा पाए।

Sponsored






Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें