page level


Friday, July 20th, 2018 10:25 AM
Flash

इन दो देशों के बीच युद्ध का असर भारत में पेट्रोल 250 रू लीटर




इन दो देशों के बीच युद्ध का असर भारत में पेट्रोल 250 रू लीटरBusinessWorld



पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर आम जन हमेशा ही परेशान रहे है। जब जब पट्रोल डीजल के भाव हद से ज्यादा बढ़े है उसके पीछे कई बार लोगों ने तो कभी पंट्रोल पंप वालों ने हड़ताल भी की है। क्रूड की बढ़ती कीमतों से पेट्रोल-डीजल के दाम लगातार बढ़े है। हालांकि सरकार ने दामों को नियंत्रित करने के लिए कई कदम भी उठाए है। कुछ राज्यों में इस पर से वैट भी घटाया गया है। लेकिन ग्लोबल स्तर पर बढ़ रहे तनाव की वजह से एक लीटर पेट्रोल की कीमत 250 रूपए लीटर जा सकती है। ईरान और सऊदी अरब के बीच तनाव कम नहीं हुआ था इसका असर भारत में पेट्रोल-डीजल की कीमत पर पड़ेगा।

रिपोर्ट में किया गया साफ

अगर सऊदी अरब और ईरान के बीच युद्ध होता है तो इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड (कच्चे तेल) के दाम में 500 प्रतिशत की तेजी आ सकती है युद्ध शुरू होते ही क्रूड के दाम 200 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच सकते हैं। यही नहीं अगर ईरान और सऊदी अरब एक दूसरे की तेल रिफाइनरी पर हमला करते हैं तो क्रूड का दाम 300 डॉलर प्रति बैरल तक भी जा सकता है। ऐसे में युद्ध शुरू होते ही भारत में एक लीटर पेट्रोल की कीमतें 250 रुपए प्रति लीटर तक जा सकती हैं।

ईरान-सऊदी अरब में इसलिए नहीं बनती है

मध्य पूर्व के दो ताकतवर देशों सऊदी अरब और ईरान के बीच हमेशा छत्तीस का आंकड़ा रहता है। दोनों देश धर्म से लेकर तेल और इलाके में दबदबा कायम करने जैसी हर बात पर झगड़ते हैं। जिससे रिश्तों में एक बार फिर से खटास आ गई है। जनवरी 2016 में सऊदी अरब में एक प्रमुख शिया मौलवी निम्र अल निम्र को मौत की सजा दी गई। उन पर सरकार विरोधी प्रदर्शन भड़काने के आरोप लगे। ईरान ने इस पर गहरी नाराजगी जताई। ईरान में सऊदी राजनयिक मिशन पर हमले किए गए। सऊदी अरब ने ईरान से अपने राजनयिक रिश्ते भी तोड़ लिए। जिसकी वजह से दोनों देशों में अब तनातनी की स्थिति बनी रहती है। और इसका असर भारत पर पड़ता है।

यह भी पढ़ें

दुनिया के सबसे ताकतवर इंसान को टक्कर देगी ये पोर्नस्टार

सीरिया का ये घायल बच्चा अब बन गया है ‘क्यूटी ओमरान’

सैनिकों के लहू की तुलना पीरियड्स से कर बैठी ये लड़की, खो दिया मिस तुर्की ताज

Sponsored