Friday, November 24th, 2017 11:49 PM
Flash




#MeToo : सोशल मीडिया पर उजागर हो रही है यौन शोषण की काली करतूत




#MeToo : सोशल मीडिया पर उजागर हो रही है यौन शोषण की काली करतूतSocial

Sponsored




इस समय भारत में दिवाली की धूम है पर इंटरनेट पर कुछ अलग ही माहौल चल रहा है। भारत समेत दुनिया के कई देशों में एक हैशटैग काफी ट्रेंड कर रहा है जिसका नाम #MeToo है। मी टू का हिंदी अर्थ ‘मैं भी’ होता है और इस टैग के पीछे भी कुछ ऐसी ही कहानी छिपी हुई है जो इस बार दिवाली से भी ज़्यादा ट्रेंड हो रही है।

(Featured Image: Yana Mazurkevich)

भारत में ‘नारी’ को ‘देवी’ का दर्जा दिया जाता है लेकिन भारत के ही नहीं दुनिया में एक तबके के इंसान ऐसे हैं जो महिला को सिर्फ अपनी जरूरत और मनोरंजन का सामान समझते हैं। वो बस अपनी पसंद की महिला से अपनी इच्छा पूरी करवाना चाहते हैं फिर चाहे उसमें उस महिला की इच्छा हो या न हो। ये कोई आज की बात नहीं है ऐसा सदियों से होता आ रहा है। किसी सड़क किनारे, भीड़ से भरी बस में, कॉलेज में, ऑफिस में ऐसी कई जगह जहां महिलाएं खुद को असुरक्षित महसूस करती हैं क्योंकि उन्हें पूरा भरोसा होता है कि यहां कुछ गलत होने वाला है। उनका अंदाज़ा भी गलत नहीं होता क्योंकि उनके साथ कई बार ऐसा हो चुका होता है!

महिलाओं के साथ छेड़छाड़ अब भले ही आपको आम लगे लेकिन जिसके साथ होती है उसके मन पर क्या बीतती है ये तो वही जानता है। छेड़छाड़ और यौन शोषण को लेकर कई बार आवाज उठाई गई। इस बार भी कई महिलाओं ने मिलकर आवाज उठाई है जिसे नाम दिया है #MeToo दुनियाभर की महिलाएं इस हैशटैग को लिखकर अपनी-अपनी प्रताड़नाओं की स्टोरी शेयर कर रही हैं।

#MeToo की शुरूआत हुई, हॉलीवुड फिल्म प्रोड्यूसर हर्वी वाइंस्टीन पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों से। हर्वी पर कई अभिनेत्रियों ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे जिसे उन्होंने सोशल मीडिया पर #MeToo हैशटैग के जरिए बताया। इसके बाद महिलाओं के साथ होने वाले उत्पीड़न के मामले पर दुनियाभर में बहस छिड़ गई। आपको बता दें कि इस हैशटैग से अभी तक 30 हजार महिलाएं अपनी आपबीती बता चुकी हैं। भारत में भी इस हैशटैग के साथ काफी पॉपुलर महिला सेलिब्रिटी ने अपनी आपबीती शेयर की है। ये वही सेलिब्रिटी है जिन्हें आप अच्छी तरह से जानते हैं तो आइए आपको बताते हैं किस सेलिब्रिटी ने अपने साथ हुई इस दुखद घटना के बारे में क्या लिखा है।

# मल्लिका दुआ

इंडिया की फेमस कॉमेडियन और इंटरनेट की सनसनी मल्लिका दुआ ने इस हैशटैग को लेकर अपने बचपन में हुई एक घटना के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि मैं हमारी कार में मां और दीदी के साथ कहीं जा रहे थे। हमारे साथ एक आदमी भी बैठा हुआ था। मां कार चला रही थी और वो दीदी और मेरे साथ बैठा हुआ था। पूरे समय उसका हाथ मेरी स्कर्ट में और दीदी की पीठ पर था। उस समय मेरी उम्र 7 साल और दीदी की उम्र 11 साल थी। मेरे पिता ने, जो उस समय दूसरी कार में थे उसका मुंह तोड़ जवाब दिया क्योंकि उसी रात उन्होंने उसे रंगे हाथों पकड़ लिया था।

# भारती सिंह

इंडिया की बेस्ट कॉमेडियन में शुमार भारती सिंह भी यौन उत्पीड़न जैसे हादसे झेल चुकी हैं। उन्होंने बताया कि जब मैं 13 साल की थी। मैं अपने स्कूल की तरफ एनसीसी कैंप के सिलसिले में यूपी में कही जा रही थी। जब हमारी ट्रेन आगरा में रूकी तो मैं पेठे खरदीने के लिए स्टेशन से उतरी। इसी बीच एक अधेड़ उम्र के आदमी ने मेरी ब्रेस्ट दबोच ली। मैने भी बिना देर करते हुए उसे पकड़ लिया और मारना शुरू किया। वहां मौजूद लोगों ने भी मेरा साथ देते हुए उसे जमकर लताड़ा। हैरानी की बात तो ये थी कि एनसीसी ड्रेस होने के बावजूद उसकी इतनी हिम्मत थी। मैं तो यही कहना चाहूंगी कि सोशल मीडिया पर चलने वाले इस कैंपेन ने लड़कियों में हिम्मत जगाई है। उससे जरूर बदलाव आएगा। अब हर लड़की भारती बन रही हैं जो अच्छी बात है।

# निधि सिंह

वेब सीरिज ‘परमानेंट रूममेट्स’ में तान्या का किरदार निभाने वाली निधि सिंह ने भी इस कैंपेन पर कहा कि ‘‘मैं बहुत खुशनसीब हूं जो मुझे इससे गुजरना नहीं पड़ा। मुझे याद है जब साउथ फिल्म के एक कास्टिंग डायरेक्टर ने मुझसे कहा था कि तुम बहुत टैलेंटड हो, तुम्हें अच्छी फिल्में मिल सकती हैं अगर तुम समझौता कर लो तो। मैं वहां से ‘ना’ बोलकर निकल गई। हमारी इंडस्ट्री में न जाने कितनी लड़कियां हैं जो रोजाना इसे ही मेंटल ट्रॉमा से गुजरती हैं। सोशल मीडिया पर अपनी बातों को बेबाकी से रखने वाली उन लड़कियों को सलाम और उम्मीद है कि यह कैंपेन हमारे लिए एक नया बदलाव लेकर आएगा।

# पूजा भट्ट

बॉलीवुड एक्ट्रेस पूजा भट्ट ने भी इस कैंपेन के बारे में कहा कि ‘‘बताएइ ऐसी कौन सी महिला है जो इसका शिकार नहीं हुई। मेरा मानना यही है कि मैं भले ही मर जाउं लेकिन खुद पर जुल्म नहीं होने दूंगी। जब-जब मेरे साथ हुआ मैंने मुंह तोड़ जवाब दिया हैं वहीं लड़कों के अब्यूज की बात करें तो इंडस्ट्री में लड़कियों से ज़्यादा लड़के इसके शिकार होते हैं लेकिन अगर वह किसी से इसका जिक्र करें तो लोग मज़ाक बनाते हैं।

# पुरूष भी कुबूल रहे यौन उत्पीड़न की बात

इस पूरे कैंपेन में ऐसा नहीं है कि महिलाएं ही सिर्फ पर यौन शोषण की दास्तां सुना रही हैं बल्कि कई पुरूष भी इसे लेकर आवाज़ उठा रहे हैं। बीबीसी पर छपे एक लेख के अनुसार एक ट्विटर यूजर उमर अहमद ने खुद कबूला है कि उसने कभी महिलाओं के साथ यौन शोषण किया था लेकिन अब वे इसके लिए शर्मिन्दा है।

Courtesy-BBC Hindi

# मुझे मज़ा आएगा अगर कोई महिला मेरे साथ छेड़खानी करे

दूसरी तरफ इसी को लेकर एक फेसबुक पोस्ट देखने को मिली जिसमें एक लड़के ने इस कैंपेन के बारे में लिखा कि ‘‘मुझे मज़ा आएगा अगर महिलाएं मेरे साथ छेड़खानी करेंगी, क्या हाई स्पिरिट ये भी ऑफर करता है।’’ लड़के की इस बात का उसकी मां ने काफी करारा जवाब दिया जिसके बाद लड़के ने माफी मांग ली। इस स्टोरी को पूरा पड़ने के लिए क्लिक करें।

ऐसी ही कई कहानियां सोशल मीडिया पर इस समय उजागर हो रही है। इस कैंपेन के जरिए प्रयास किया जा रहा है कि समाज से यौन उत्पीड़न जैसी हरकतों को कम किया जा सके और महिलाएं के मन पर ज़िन्दगीभर इस गंदे हादसे का भार न रहे।

Sponsored






Follow Us

Yop Polls

नोटबंदी का एक वर्ष क्या निकला इसका निष्कर्ष

Young Blogger

Dont miss

Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Subscribe

Categories