page level


Sunday, October 14th, 2018 02:48 AM
Flash

भीम सेना का “रावण” जेल से रिहा, जानिए क्या है भीम सेना और रावण की कहानी…




भीम सेना का “रावण” जेल से रिहा, जानिए क्या है भीम सेना और रावण की कहानी…Politics



भीम आर्मी का चीफ चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण को 15 महीने बाद सहारनपुर जेल से गुरूवार को रिहा कर दिया गया है। उन्हें 15 महीने बाद जेल से रिहा किया गया है। बता दें कि साल 2017 में सहारनपुर में जातीय दंगा फैलाने के आरोप में राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत जेल भेजा गया था। जेल से रिहा होने के बाद उन्होंने बीजेपी पर करारा हमला बोला है। रावण ने कहा है कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को हारना है। बीजेपी को सत्ता में तो क्या विपक्ष में भी जगह नहीं मिलेगी। बता दें कि बहुत से राजनीतिक दल लगातार उनकी रिहाई की मांग कर रहे थे।

सहारनपुर में 9 मई, 2017 को हुई जातीय हिंसा में आठ स्थानों पर भीम आर्मी के सदस्यों ने उत्पात मचाते हुए कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया था और एक पुलिस चौकी को आग लगा दी थी। इस दौरान हुई हिंसा में मुख्य आरोपी चंद्रशेखर को सहारपुर में हुई हिंसा का मुख्य आरोपी चंद्रशेखर को उत्तर प्रदेश की स्पेशल टॉस्क फोर्स (एसटीएफ) ने पिछले साल 8 जून को हिमाचल प्रदेश के डलहौजी से गिरफ्तार किया था।

क्या है भीम सेना और कौन है रावण-

भीम सेना वही संगठन है जिसका दलित वर्ग पूर्ण समर्थन कर रहा है। 21 मई को भीम सेना ने जंतर-मंतर पर प्रदर्शन किया। इस संगठन का अध्यक्ष कोई नेता नहीं बल्कि पेशे से वकील चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण है। चंद्रशेखर ने सोशल मीडिया के जरिए काफी सुर्खियां बटोरी है और दलितों को एकत्रित करने का सबसे अच्छा तरीका अपनाया। यह संगठन करीब छह साल पहले बनाया गया था। भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर आजाद का कहना है कि सहारनपुर में दलितों पर अत्याचार किया गया और उनके घर जलाए गए। भीम आर्मी से जुड़े युवाओं का कहना है कि सहारनपुर में दलितों के घर जलाए गए। उसके बावजूद भी पुलिस आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई न करके दलितों को उठाकर जेल में डाल रही है।

अब ऐसा माना जा रहा है कि भीम सेना लोकतंत्र के लिए एक चुनौती बन गई है और अब ये और उग्र तरह से अपना काम करेगी।

यह भी पढ़ें

लड़की की शादी को लेकर इस मशहूर आतंकी संगठन ने बना रखा है ये अनोखा नियम

मुशर्रफ ने कहा, मैं आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा का सबसे बड़ा समर्थक

9/11 हमला : कई देशों को तबाह करने की फिराक में हैं दुनिया के ये खतरनाक “आतंकी संगठन”

पाक की ज़मीं से दहशत फ़ैलाने वाले आतंकी संगठनों के खिलाफ ब्रिक्स में भारत को बड़ी कामयाबी

सैयद सलाउद्दीन का बेटा गिरफ्तार, पिता बनाना चाहता है कश्मीर को भारतीय सेना का कब्रिस्तान

Sponsored






You may also like

No Related News