Friday, November 24th, 2017 11:53 PM
Flash




पटाखा कारोबारियों को 500 करोड़ रूपए का नुकसान, सरकार करें भरपाई




पटाखा कारोबारियों को 500 करोड़ रूपए का नुकसान, सरकार करें भरपाईBusiness

Sponsored




हाल ही में सुप्रीम कोर्ट द्वारा जब पटाखों पर प्रतिबंध लगाया गया तो सभी पटाखों के कारोबारियों ने इसका विरोध जताया है क्योंकि सुप्रीम कोर्ट का जब यह फैसला आया था तब तक माल व्यापारियों की दुकान तक पहुंच चुके थे। इसको लेकर खुदरा व्यापारियों के आर्गेनाइजेशन कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने सरकार से कहा कि वह उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद बिक्री बंद करने वाले पटाखा विक्रेताओं को नुकसारन की भरपाई करे।

कैट ने अपनी बात रखते हुए कहा कि, ‘उनके पास करीब 500 करोड़ रूपए तक के पटाखे रहे हुए हैं। दिल्ली के पटाखे विक्रेताओं को बिना किसी गलती के भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है।’

वापस माल लेने से किया इंकार

सुप्रिम कोर्ट के आदेश और प्रशासन की रोक के बाद पटाखा व्यापारियों के करोड़ों रूपए डूबने की आशंका दिख रही हैं। क्योंकि जिससे व्यापारियों ने माल लिया था ‘शिवाकाशी और रोहतक से माल खरीदा था’ उन्होंने अब माल वापस लेने से साफ मना कर दिया है। गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने दिल्ली एवं राष्ट्रीय राजधानी में 31 अक्टूबर तक पटाखों की बिक्री पर लगे बैन में छूट देने से साफ इंकार कर दिया है। इसके बाद से व्यापारी यूनियन प्रदर्शन कर रहे हैं।

पटाखे बेचने के लिए लाइसेंस होता है

कैट ने मीडिया से कहा कि, ‘‘कारोबारियों को संबंधित ऑथोरिटी का लाइसेंस मिला था। जिसके अनुसार उन्होंने पटाखों की खरीदी की थी। इसके बाद भी उन्हें नुकसान झेलना पड़ रहा है।’’

Sponsored






Follow Us

Yop Polls

नोटबंदी का एक वर्ष क्या निकला इसका निष्कर्ष

Young Blogger

Dont miss

Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Subscribe

Categories