page level


Saturday, December 16th, 2017 08:30 PM
Flash




चंदे के पैसों से अमेरिका गया था किसान का बेटा, मेडल जीतकर ऊंचा किया नाम




चंदे के पैसों से अमेरिका गया था किसान का बेटा, मेडल जीतकर ऊंचा किया नामSports

Sponsored




राजेश कुमार, पानीपत। ऐसा जरूरी नहीं है कि शहरों के लोग ही तरक्की करें। छोटे गांवों ने निकले लोग भी आजकल देश नहीं दुनियाभर में अपना और अपने देश का नाम रोशन कर रहे हैं। पानीपत के छोटे से गांव महराना के रहने वाले बॉडी बिल्डर प्रवीण नांदल आज पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन कर रहे हैं। हाल ही में इन्होंने फिनलैंड में बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप में सिल्वर मैडल जीता।

90 किलो भारवर्ग में विजयी हुए

पनीपत के छोटे से गांव महराना के बॉडी बिल्डर प्रवीण नांदल ने फिनलैंड में चल रही मिस्टर यूनिवर्स बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप में भारत को सिल्वर मैडल जीताकर देश का नाम रोशन किया है। प्रवीण ने हाल ही में हुई है मिस्टर यूनिवर्स बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप के 90 किलोग्राम भारवर्ग में प्रवीण नेता सिल्वर गोल्ड सिल्वर मेडल जीतकर भारत का नाम फिर से रोशन किया है।

इटली में भी जीता था सिल्वर

नवम्बर माह में प्रवीण नांदल ने इटली में हुई मिस्टर ओलंपिया एमेच्योर चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल हासिल कर चुका है मिस्टर यूनिवर्स बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप में प्रवीण नांदल समेत भारत के कई बॉडी बिल्डरों ने भाग लिया था प्रवीण नांदल हरियाणा से एक ही बॉडीबिल्डर था जिसने फिनलैंड में भी अपनी पहचान बनाई ओर अपने देश का नाम एक बार फिर से चमकाया

चंदे के पैसों के गए थे अमेरिका

ख़बरों से मिली जानकारी के अनुसार ये पहले अमेरिका के टेक्सास में जाने के लिए भारत की ओर से सिलेक्ट हुए थे। तब इनके पिता ने चंदा इकट्ठा करके प्रवीण को अमेरिका भेजा। ये वहां गए और करीब 6 में से 3 प्रतियोगिताओं में मेडल जीतकर आए। इनमें गोल्ड भी शामिल था।

17 की उम्र में शुरू की बॉडी बिल्डिंग

प्रवीण ने मीडिया को दी जानकारी में बताया कि उन्होंने 17 की उम्र में बॉडी बिल्डिंग की शुरूआत की थी। वे तीन बार कुरूक्षेत्र यूनिवर्सिटी में ओवरऑल चैंपियन रह चुके हैं। नॉर्थ इंडिया में गोल्ड, 2012 में रूस चैंपियनशिप में गोल्ड मैडल जीत चुके हैं। इसके अलावा 2013 में यूक्रेलन में ऑर्गेनाइज यूरोप बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप में गोल्ड और 2014 में मुंबई में ऑर्गेनाइज मिस्टर वर्ल्ड चैंपियनशिप में टॉप 5 में स्थान पक्का किया था।

20 इंच का है प्रवीण का डोला

बात अगर प्रवीण की बॉडी की करें तो प्रवीण के बाइसेप्स 20 इंच के हैं और उनकी कमर मात्र 30 इंच की है। उनका चेस्ट 51 इंच का है। अपना खर्च चलाने के लिए वे खुद का हेल्थ क्लब चलाते हैं। आज प्रवीण जिस मुकाम पर है वो अपनी और अपने घरवालों और दोस्तों की बदौलत है। वे आज के युवाओं के लिए प्रेरणा हैं।

यह भी पढ़ें- 

दो बेटियों की मां से की थी शिखर धवन ने शादी

चीन को टक्कर देने की योजना बना रहे बाबा रामदेव, ये है मास्टर प्लान

जानिए कैसे बैंक में रखा आपका पैसा सुरक्षित नहीं है

#NavyDay: इंडियन नेवी में अद्भुत कारनामा करने वाली पहली महिला

एक और कारनामा दिखाकर ऐसा करने वाले 11वें भारतीयों की लिस्ट में शामिल हुए विराट

Sponsored






Loading…

Subscribe

यूथ से जुड़ी इंट्रेस्टिंग ख़बरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें