page level


Saturday, September 22nd, 2018 11:05 AM
Flash

देश का पहला रेल्वे इंटेलीजेंट कोच कल होगा रवाना, मुसीबत आने से पहले करेगा आगाह




देश का पहला रेल्वे इंटेलीजेंट कोच कल होगा रवाना, मुसीबत आने से पहले करेगा आगाहAuto & Technology



कभी पटरी टूटने से तो कभी कोच में आग लग जाने से कई बार रेल्वे को बहुत नुकसान हुआ है। इससे सिर्फ रेल्वे हीं नहीं बल्कि उसमें सफर कर रहे लोगों के जीवन का भी नुकसान हुआ है। ऐसा नुकसान अब बार-बार न हो इसलिए रेल्वे ने आर्टिफिशियल इंटेलीजेंसी युक्त इंटेलीजेंट कोच बनाए हैं। जो कई चीज़ों के बारे में पहले से आगाह कर देंगे।

30 अगस्त से लॉन्च होगा

मॉर्डन रेल कोच फैक्टरी रायबरेली के इंजीनियरों के एक दल ने मिलकर देश का पहला आर्टिफिशियल इंटेलीजेंसी कोच तैयार किया है। इसे 30 अगस्त से कैफियत एक्सप्रेस में लगाया जाएगा। मंगलवार को नई दिल्ली में सफदरजंग स्टेशन पर कोच का उद्घाटन किया गया।

इन खूबियों से होगा लैस

रेल्वे के इस इंटेलीजेंट कोच में यात्रियों की सुरक्षा के लिए आधुनिक नाइट विजन हाई रिजॉल्यूशन वाले दो सीसीटीवी कैमरे, दरवाजे पर दो एलईडी पैनल, वॉटर लेवल मीटर और इमरजेंसी बटन लगे हैं। इस इंटेलीजेंट कोच में एचपीए फिल्टर भी लगाया गया है जो प्रदूषण के स्तर को नियंत्रित रखेगा। कोच में इंटरनेट एक्सेस के लिए हॉट स्पॉट भी दिया गया है।

पहियो पर लगे हैं आठ सेंसर

इस कोच की खासियत ये भी है कि अगर इसके ट्रैक में कोई खराबी नज़र आ रही तो ये इसे तुरंत बता देगा। इसके लिए इसके पहियों में आठ सेंसर लगाए गए हैं जो खराबी का डाटा रिकॉर्ड करके उसे क्लाउड पर सेव कर देंगे। इस डाटा के आधार पर ट्रैक को रिपेयर किया जा सकेगा।

इस साल मिलेंगे 100 कोच

उत्तर रेलवे के चीफ इंजीनियर अरुण अरोड़ा ने बताया कि फिलहाल इस तरह के दो कोच उत्तर रेलवे को मिले हैं। अगर इसका परीक्षण सही रहा तो इस साल के अंत तक ऐसे ही सौ इंटेलिजेंस कोच का निर्माण होगा। इन्हें राजधानी और शताब्दी ट्रेनों में लगाया जाएगा।

यह भी पढ़ें :

इंदौर में शुरू हुई फिर से नंबर वन आने की मुहिम, 40 बस्तियों को किया जाएगा ‘स्वच्छ’

कोई कवि तो कोई लॉ का है प्रोफेसेर, एक तो काट चुका है जेल की सजा भी…..

Google पर भड़के “ट्रंप”, कहा- इडियट सर्च करते ही क्यों दिखती है मेरी तस्वीर

Sponsored






You may also like

No Related News