page level


Saturday, July 21st, 2018 05:39 PM
Flash

भारत में दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री का उद्घाटन आज, जानिए खास बातें..




भारत में दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री का उद्घाटन आज, जानिए खास बातें..



ये सच है कि ज्यादातर मोबाइल फोन साउथ कोरिया, अमेरिका या चीन में बनते हैं, लेकिन आपको ये जानकर हैरत होगी कि दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री इनमें से किसी देश में नहीं बल्कि भारत के नोएडा शहर में है। आज शाम 5 बजे पीएम नरेन्द्र मोदी इस सैमसंग की कंपनी का उद्घाटन करेंगे। 35 एकड़ में फैली इस सैमसंग इंडिया की नई यूनिट के उद्घाटन में दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून-जे-इन शामिल होंगे । नोएडा यात्रा के दौरान यहां मोदी के साथ योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे।  बता दें कि नोएडा के सेक्टर 81 में यह यूनिट 5 हजार करोड़ के निवेश से तैयार हुई है।

अभी वियतनाम में है सबसे बड़ी फैक्ट्री-

बता दें कि नोएडा से पहले वियतनाम में मोबाइल की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री है। सैमसंग की ये फैक्ट्री 1997 से टीवी निर्माण के साथ शुरू हुई थी। यहां अभी 2.5 लाख मोबाइल रोजाना बनते हैं।

इन देशों में एक्सपोर्ट होंगे मोबाइल-

नोएडा की नई फैक्ट्री में बने मोबाइल फोन पश्चिम एशिया, अफ्रीका और यूरोपीय बाजारों में एक्सपोर्ट किए जाएंगे। इस समय कंपनी अकेले भारत में ही 50 लाख फोन बनाती है, जो घरेलू बाजार में बेचे जाते हैं।

जानिए क्या है इस फैक्ट्री की खास बातें-

# देश में 1990 के दशक की शुरुआत में पहला इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण केंद्र स्थापित हुआ जिसमें 1997 में टीवी बनना शुरू हुआ। मौजूदा मोबाइल विनिर्माण इकाई 2005 में लागई गई।

# पिछले साल जून में दक्षिण कोरियाई कंपनी ने 4,915 करोड़ रुपये का निवेश कर नोएडा संयंत्र में विस्तार करने की घोषणा की, जिसके एक साल बाद नई फैक्ट्री अब दोगुना उत्पादन के लिए तैयार है।

# इस फैक्ट्री के खुलने से 35 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा। एक रिपोर्ट के मुताबिक अगले कुछ साल में 10 हजार करोड़ रुपये निवेश आने की संभावना है, जबकि चार से पांच लाख रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

# भारत में कंपनी इस समय 6.7 करोड़ स्मार्टफोन बना रही है और नये संयंत्र के चालू हो जाने पर तकरीबन 12 करोड़ मोबाइल फोन का विनिर्माण होने की संभावना है।

# नई फैक्ट्री में न सिर्फ मोबाइल बल्कि सैमसंग के कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक सामान जैसे रेफ्रिजरेटर और फ्लैट पैनल वाले टेलीविजन का उत्पादन भी दोगुना हो जाएगा और कंपनी इन सारे सेगमेंट में अग्रणी की भूमिका में बनी रहेगी।

# काउंटरप्वाइंट रिसर्च के एसोसिएट डायरेक्टर तरुण पाठक के अनुसार, नई फैक्ट्री से सैमसंग बाजार में कम समय में उत्पाद उतारने में सक्षम होगी। बता दें कि अब तक सैमसंग के मोबाइल भारत में नोएडा और तमिलनाड़ु के श्रीपेरू बदूर में बनते हैं। इसके अलावा 5 रिसर्च एंड डवलपमेंट सेंटर और नोएडा में बने एक डिजाइन केंद्र में 70 हजार लोग काम करते हैं।

यह भी पढ़ें

सैमसंग ने लॉंच किया नया स्मार्ट टी.वी, दीवार के हिसाब से बदलेगा अपना कलर

Indore में बन रहा है India Gate, इस तारीख को हो सकता है उद्घाटन!

सैमसंग देगा 20 हजार रूपए की स्कॉलरशिप छात्राओं को, इस प्रोग्राम के तहत

Sponsored






You may also like

No Related News