page level


Friday, September 21st, 2018 05:42 PM
Flash

IRCTC Scam : तेजस्वी और राबड़ी को मिली बेल, जानिए क्या है आरोप




IRCTC Scam : तेजस्वी और राबड़ी को मिली बेल, जानिए क्या है आरोपPolitics



बिहार का जाना पाना सियायी परिवार है लालू प्रसाद का परिवार। इस परिवार में लगभग हर शख्स का नाता राजनीति से है। लालू तो चारा घोटाले के मामले में आत्मसमर्पध कर चुके हैं, लेकिन भारतीय रेलवे केे आईआरसीटीसी घोटाले में लालू के बेटे तेजस्वी यादव और पत्नी राबड़ी को जेल होगी या बेल, इसका फैसला आज कोर्ट में होना था। फैसला आ गया है। तेजस्वी यादव और राबड़ी देवी को पटियाला हाउस कोर्ट ने सुनवाई के बाद जमानत दे दी है। कोर्ट ने दोनों को एक लाख रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दी है। मामले पर सुनवाई के बाद कोर्ट ने इस मामले से जुड़े सभी आरोपियों को जमानत दे दी।

पेशी के लिए पटना से दिल्ली रवाना होने से पहले तेजस्वी ने पत्रकारों से कहा था कि ये एक न्यायिक प्रक्रिया है, जिसे पूरी करना हमारी जिम्मेदारी है। बता दें कि 29 अगस्त को आईआरसीटीसी होटल आवंटन धनशोधन मामले में ईडी ने लालू प्रसाद, राबड़ी देवी और तेजस्वी के अलावा अन्य लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया था।

क्या है IRCTC स्कैम

बात उस समय की है जब लालू यादव 2004 से 2009 तक रेल मंत्री थे। तब रेलवे के पुरी और रांची स्थित बीएनआर होटल के रख-रखाव और इम्प्रूवमेंट के लिए आईआरसीटीसी ने एक टेंडर निकाली। जिसे आरजेडी प्रमुख ने अवैध तरीके से विनय कोचर की कंपनी मेसर्स सुजाता होटल्स को दे दी। इस टेंडर प्रॉसेस में नियम-कानून की बुरी तरह से धज्जियां उड़ाई गई थी। उन पर आरोप है कि इसके एवज़ में 25 फरवरी 2005 को कोचर ने पटना के बेली रोड स्थित 3 एकड़ जमीन सरला गुप्ता की कंपनी मेसर्स डिलाइट मार्केटिंग कंपनी लिमिटेड (डीएमसीएल) को 1.47 करोड़ रुपए में बेच दी, जबकि बाजार में उसकी कीमत 1.93 करोड़ रुपए थी। इसे कृषि भूमि बताकर सर्कल रेट से काफी कम पर बेचा गया, स्टाम्प ड्यूटी में गड़बड़ी की गई।

बाद में 2010 से 2014 के बीच यह बेनामी प्रॉपर्टी लालू की फैमिली की कंपनी लारा प्रोजेक्ट को सिर्फ 65 लाख रुपए में ट्रांसफर कर दी गई, जबकि सर्कल रेट के तहत इसकी कीमत करीब 32 करोड़ थी और मार्केट रेट 94 करोड़ रुपए था। एफआईआर में कहा गया है कि कोचर ने जिस दिन ज़मीन डीएमसीएल को बेची ,उसी दिन रेलवे बोर्ड ने आईआरसीटीसी को उसे बीएनआर होटल्स सौंपे जाने के अपने फैसले के बारे में बताया. सीबीआई ने लालू यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी, बेटे तेजस्वी और पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रेमचंद गुप्ता की पत्नी सरला गुप्ता के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

लालू यादव पर बेनामी प्रॉपर्टी और टैक्स चोरी के आरोप लगे हैं। डिपार्टमेंट को शक है कि बेनामी प्रॉपर्टी 1000 करोड़ की हो सकती है। बीजेपी नेता सुशील मोदी ने कहा है कि रेलवे के होटल को लीज़ पर देने के लिए जो ज़मीन लालू को दी गई उसकी कीमत करीब 200 करोड़ रुपए है। उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि इस ज़मीन पर पटना का सबसे बड़ा शॉपिंग मॉल बनाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें

इनकम टैक्स अफसर की बहू रोहिणी कर रही लालू यादव को सपोर्ट

चारा घोटाला के तीसरे मामले में लालू-जगन्‍नाथ मिश्रा को पांच साल की सजा

ये हैं लालू की सात बेटियां, किसी का पति है पायलट तो किसी का इंजीनियर

राबड़ी देवी चाहती हैं ऐसी बहू, जो न “मॉल” जाए, न “सिनेमा हॉल”

Sponsored